1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

पाकिस्तान में भारतीय टीवी चैनलों का प्रसारण बंद

पाकिस्तान में टीवी के पर्दे से भारतीय चैनलों का प्रसारण पूरी तरह से बंद हो गया है. पाकिस्तानी मीडिया नियामक संस्था के आदेश पर केबल ऑपरेटरों ने भारतीय चैनलों का प्रसारण बंद कर दिया.

default

हालांकि इस कार्रवाई से पाकिस्तान में काफी पसंद किए जाने वाले भारतीय धारावाहिकों और फिल्मों से वंचित होने के कारण दर्शकों में मायूसी हैं. पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया रेगुलेटरी अथॉरिटी (पेमरा) के आदेश पर भारतीय एवं कुछ अन्य विदेशी चैनलों का प्रसारण रोक दिया गया है. इससे स्टार और सोनी जैसे भारत के तमाम अग्रणी मनोरंजन चैनलों का पूरे देश में जबकि बीबीसी और सीएनएन का कुछ हिस्सों में प्रसारण ठप्प हो गया है.

पेमरा के इस आदेश पर स्थानीय लोगों में काफी नाराजगी है.

कारण साफ है कि एक तरफ क्रिकेट प्रेमी लार्डस में पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच होने वाले टेस्ट मैच को नहीं देख पाएंगे वहीं भारतीय टीवी धारावाहिकों के लाखों मुरीद अब अपना समय कैसे काटेंगे.

टीवी के पर्दे पर पेमरा का सिर्फ एक लाइन का आदेश दिखाई दे रहा है. इस बारे में विस्तार से कुछ नहीं बताया गया है. पेमरा के अध्यक्ष मलिक मुश्ताक ने संवाददाताओं को बताया कि यह फैसला सुप्रीम कोर्ट के हाल ही के आदेश के तहत किया गया है. इसमें सभी केबिल ऑपरेटरों को प्रसारण अधिकार नहीं रखने वाले चैनलों का प्रसारण तत्काल प्रभाव से रोकने को कहा गया है.

Flash-Galerie Supermacht Indien - 60 Jahre demokratische Verfassung

बॉलीवुड के दीवाने पाकिस्तान में भी

कोर्ट ने सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की सिफारिश पर भारतीय चैनलों के प्रसारण को रोकने का आदेश दिया.

इस बीच पाकिस्तान केबिल ऑपरेटर संघ के अध्यक्ष मोहम्मद सादिक ने पीटीआई को बताया कि इस आदेश के लपेड़े में कम से कम 30 विदेशी चैनल आए हैं. इनमें स्टार प्लस, स्टार मूवीज, सोनी, जी टीवी, सैट मैक्स, ईएसपीएन, स्टार स्पोर्टस, बीबीसी, सीएनएन और अल जजीरा शामिल हैं. सादिक ने बताया कि इसकी वजह जानने के लिए हजारों की संख्या में दर्शकों के टेलीफोन आ रहे हैं और कोई भी उनकी दलीलों को सुनने के लिए तैयार नहीं है.

रिपोर्टः पीटीआई/निर्मल

संपादनः आभा एम

DW.COM