1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पाकिस्तान में ब्रिटिश उच्चायुक्त तलब

आतंकवाद को लेकर ब्रिटेन के प्रधानमंत्री कैमरन के बयानों से पाकिस्तान नाराज. पाकिस्तान की सरकार ने ब्रिटेन के उच्चायुक्त को बुलावा भेजा. आईएसआई प्रमुख ने भी ब्रिटेन की यात्रा रद्द कर दी है.

default

पाकिस्तान में नाराजगी बढ़ी

ब्रिटेन के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि प्रधानमंत्री कैमरन के बयान के बाद पाकिस्तान ने ब्रिटेन के उच्चायुक्त को बुलावा भेजा. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि उच्चायुक्त एडम थॉमसन पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी से मिल रहे हैं लेकिन मुलाकात को लेकर इस वक्त और जानकारी उपलब्ध नहीं है.

इस बयान से नाराज हो कर पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के प्रमुख ने भी अपनी ब्रिटेन यात्रा रद्द कर दी है. पाकिस्तानी शहर कराची में भी कई लोगों ने कैमरन के खिलाफ नारेबाजी की और उनके पुतले जलाए. ब्रिटेन में पाकिस्तान के उच्चायुक्त वाजिद शम्स उल हसन ने कहा कि उन्होंने ब्रिटेन में पाकिस्तानी मूल के लोगों से खास अपील की है कि वे पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी की ब्रिटेन यात्रा से पहले कैमरन के विरोध में प्रदर्शन न करें.

राष्ट्रपति जरदारी फ्रांस की तीन दिन की यात्रा पर रविवार को फ्रांस पहुंचे. यहां से वह ब्रिटेन जाएंगे. शुक्रवार को उनकी मुलाकात ब्रिटिश प्रधानमंत्री से होनी है. इसके बाद वह ब्रिटेन में अपने समर्थकों की एक रैली को संबोधित करेंगे.

अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान के खिलाफ चल रही लड़ाई में पश्चिमी देशों के लिए पाकिस्तान का समर्थन और उसके सहयोग की जरूरत है. पिछले दिनों विकीलीक में प्रकाशित दस्तावेज़ों के मुताबिक आईएसआई छिपकर तालिबान की मदद कर रही थी जबकि पाकिस्तान की सरकार को अमेरिका से अरबों डॉलर का सहयोग मिलता रहा है. कैमरन ने भारत यात्रा के दौरान इन दस्तावेजों की ओर संकेत करते हुए कहा कि पाकिस्तान को अपने देश में आतंकवाद पनपने नहीं देना चाहिए और उसे आतंकवाद का 'निर्यात' नहीं करना चाहिए.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्णन

संपादनः ए कुमार