1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

पाकिस्तान में दो धमाके, 40 की मौत

पाकिस्तान के कबायली इलाके में हुए दो आत्मघाती बम धमाकों में 40 लोग मारे गए हैं. हमलावरों ने सरकार समर्थक समुदाय के नेताओं और तालिबान विरोधी मिलिशिया के समर्थकों को निशाना बनाया.

default

जिला अस्पताल के मेडिकल अफसर डॉ. जफर इकबाल ने बताया, "कम से कम 40 लोग मारे गए हैं और 70 से 80 घायल हुए हैं." एक स्थानीय अधिकारी शमसुल इस्लाम ने जियो टीवी को बताया, "हमलों को दो आत्मघाती हमलावरों ने अंजाम दिया. वे मोटरसाइकल पर सवार थे."

ये धमाके मोहमंद कबायली जिले के गिलनाई इलाके में उस वक्त हुए जब वहां तालिबान विरोधी कबायली मिलिशिया अमन कमेटी की बैठक हो रही थी. एक सुरक्षा अधिकारी ने बताया, "एक आत्मघाती हमलावर ने उस कमरे के सामने खुद को उड़ा दिया जहां बैठक हो रही थी. दूसरे हमलावर ने नजदीकी घास के मैदान में धमाका किया." उस वक्त वहां पर 100 से ज्यादा लोग मौजूद थे. इसलिए मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है.

मोहमंद इलाके में सरकार समर्थक नेताओं पर पांच महीनों में यह दूसरा हमला है. इससे पहले 9 जुलाई को इलाके के याकागुंड शहर में हुए कार बम धमाके में 105 लोगों की जानें गईं. मोहमंद अफगानिस्तान की सीमा से लगने वाले उन सात पाकिस्तानी जिलों में से एक है जहां अल कायदा से जुड़े आतंकवादियों का नेटवर्क सक्रिय है और वे समय समय पर सरकार और सरकार समर्थक अधिकारियों को निशाना बनाते हैं.

2007 में इस्लामाबाद की लाल मस्जिद पर हुई सैन्य कार्रवाई के बाद पाकिस्तान में हुए आत्मघाती हमलों में लगभग चार हजार लोग मारे गए हैं. इस तरह के हमलों के लिए तालिबान और अल कायदा के नेटवर्क को जिम्मेदार माना जाता है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links