1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पाकिस्तान में एक ही दिन में 84 की मौत

शनिवार को पाकिस्तान के कबायली इलाके में हुए आत्मघाती बम हमले और सेना की कार्रवाई में कुल 84 लोगों की मौत हो गई है. विश्व खाद्य कार्यक्रम के अभियान पर आत्मघाती धमाका करने की अमेरिका और ब्रिटेन ने कड़ी निंदा की.

default

महिला आत्मघाती हमलावर ने ऐसी जगह खुद को उड़ा लिया जहां कई लोग संयुक्त राष्ट्र खाद्य कार्यक्रम के तहत रोजमर्रा का खाद्यान्न ले रहे थे. इसमें 44 लोग मारे गए.जबकि बाजौर में सेना के हमले 77 लोग घायल हुए. स्थानीय सरकारी अधिकारी इम्तियाज खान ने बताया कि खुदकुश हमले कि जगह पर कम से कम 300 लोग इकट्ठा हुए थे.

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि एक महिला बुरका पहने हुए थी. पहले तो उसने ग्रैनेड फेंके और फिर सुरक्षागार्ड्स के पास रुकी और खुद को उड़ा लिया. पाकिस्तान में यह तीसरा हमला है जो महिला आत्मघाती हमलावर ने किया है.

Selbstmordanschlag in Pakistan

शनिवार को दूसरा हमला सालारजई कबीले पर हुआ. इसमें भी कई लोग मारे गए हैं. सालारजई कबीले के लोगों ने सरकार के साथ मिलकर तालिबान के खिलाफ संघर्ष में भागीदारी शुरू की है. तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है और इस बारे में कई समाचार एजेंसियों को सूचना भी भेजी. तालिबान के प्रवक्ता आजम तारिक ने कहा कि कबायली लोग सरकार का साथ दे रहे हैं इसलिए हमने उन पर हमला किया है.

शुक्रवार को ही डेढ़ सौ तालिबानी लड़ाकों ने पाकिस्तान के मोहमंद में पांच सुरक्षा नाकों पर हमला किया जिसमें 11 सैनिक और 40 संदिग्ध चरमपंथी मारे गए. सेना ने दावा किया है कि दो दिन में उन्होंने 64 हमलावरों को मार गिराया है.

अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा ने आत्मघाती हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है. जबकि ब्रिटेन के उप विदेश मंत्री एलिस्टेर बर्ट ने हमले को भयावह बताते हुए कड़ी इसकी कड़ी भर्त्सना की.

रिपोर्टः एजेंसियां/आभा एम

संपादनः एन रंजन

DW.COM