1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

पाकिस्तान पर बाढ़ का कहर, 408 की मौत

पाकिस्तान में मॉनसून की भारी बारिश के चलते आई भयंकर बाढ़ से 400 से ज्यादा लोगों की मौत. हजारों लोग बेघर हुए. बाढ़ से प्रभावित इलाकों में राहत सामग्री पहुंचाने में मुश्किलें पेश आ रही हैं. घर, पुल, स्कूल, सड़कें तबाह.

default

तीन दिनों से हो रही मूसलाधार बारिश से कई स्थानों पर बाढ़ आ गई है जिससे बड़े पैमाने पर तबाही हुई है. बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित खायबर पख्तूनख्वा प्रांत हुआ है जहां घरों, पुलों, स्कूल, सड़कों और रेल की पटरियों को जबरदस्त नुकसान हुआ है.

प्रांत के सूचना मंत्री मियां इफ्तिखार हुसैन ने पेशावर में बताया, "शुरुआती रिपोर्टों के मुताबिक 408 लोगों के मारे जाने की खबर है. हमें डर है कि मृतकों का आंकड़ा बढ़ सकता है. स्थिति तभी स्पष्ट हो पाएगी जब बाढ़ का पानी उतरना शुरू होगा."

नौशेरा, चारसड्डा और स्वात घाटी बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित हुए हैं. पानी के तेज बहाव से इमारतों और घरों को भारी नुकसान हुआ है. बाढ़ की विभीषिका झेल रहे एक व्यक्ति ने बताया कि आधा नौशेरा शहर बाढ़ के पानी में डूबा हुआ है. सैन्य अस्पताल, कैंट का इलाका और अन्य इमारतें पानी में हैं. राहत सामग्री लेकर आ रहे सेना के ट्रक भी सड़कों पर फंस गए हैं.

पाकिस्तान की सेना ने राहत कार्य की कमान संभाल ली है. सेना का कहना है कि अब तक करीब 14 हजार लोगों को सुरक्षित इलाकों तक पहुंचाया जा चुका है. 50 टन राशन विमान के जरिए बाढ़ प्रभावित इलाकों में पहुंचाया गया है.

खायबर पख्तूनख्वाह प्रांत में पिछले तीन दिनों में 312 मिलीमीटर बारिश हो चुकी है जो पिछले 35 साल में सबसे ज्यादा है. पाकिस्तान में मॉनसून सितम्बर के पहले हफ्ते तक रहता है. मौसम अधिकारियों ने बताया है कि अगले दस दिनों में भारी बारिश होने का अनुमान है. बलूचिस्तान प्रांत भी बाढ़ के कहर से नहीं बच पाया और पिछले हफ्ते वहां 70 लोगों की मौत हुई जबकि एक लाख से ज्यादा लोख बेघर हुए.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह