1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पाकिस्तान जीतेगा अगला वर्ल्ड कपः यूनुस खान

पाकिस्तान क्रिकेट भले ही फिक्सिंग और दूसरी मुसीबतों में घिरा हो पर यूनुस खान को उम्मीद है कि अगला वर्ल्ड कप उन्हीं के देश की टीम जीतेगी. अगले साल क्रिकेट महाकुंभ भारत,श्रीलंका और बांग्लादेश की संयुक्त मेजबानी में होगा.

default

रविवार को दुबई में यूनुस खान ने कहा कि इस बार का वर्ल्ड कप पाकिस्तान जीते इस बात की उम्मीदें बहुत ज्यादा हैं. युनुस ने कहा, "मुझे ऐसा लगता है कि मैं क्रिकेट से संन्यास लूं इससे पहले हम लोग आईसीसी का एक बड़ा मुकाबला जीतेंगे और अगर ये अगले साल का वर्ल्ड कप हुआ तो बहुत मजा आएगा."

क्रिकेट वर्ल्ड कप अगले साल 19 फरवरी से 2 अप्रैल के बीच खेला जाएगा. युनुस ने कहा, "पाकिस्तान उन चार देशों में है जिसके इस साल का वर्ल्ड कप जीतने की सबसे ज्यादा उम्मीदें हैं. अगर हम अपनी पूरी क्षमता से खेलें तो वर्ल्ड कप जरूर जीतेंगे ठीक वैसे ही जैसा टी20 का वर्ल्ड कप जीता था."

32 साल के यूनुस खान ने इंग्लैंड में हुए टी20 वर्ल्ड कप में पाकिस्तान का नेतृत्व किया और खिताब पाकिस्तान के नाम रहा. हालांकि इसके पांच महीने बाद ही कुछ सीनियर खिलाड़ियों के साथ हुए मतभेद के बाद उन्हें टीम की कप्तानी छोड़नी पड़ी.

यहां तक कि न्यूजीलैंड गई टीम में भी उन्हें शामिल नहीं किया गया और आस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज से भी वो बाहर रहे. पाकिस्तान आस्ट्रेलिया में हुए तीन टेस्ट, पांच वनडे और एक टी20 में हारा. विवाद और गहराया जिसके बाद अनुशासनात्मक कार्रवाई में सात खिलाड़ियों पर आजीवन प्रतिबंध लगा दिया गया इसमें युनुस खान भी थे.

यूनुस पर लगा अनिश्चित काल के लिए प्रतिबंध जून में हटा लिया गया, लेकिन पीसीबी के साथ चले आ रहे झगड़े के कारण आठ महीने तक युनुस टीम से बाहर रहे. वैसे युनुस कहते हैं कि इस समय में उन्होंने अपने खेल पर ध्यान दिया. इस साल जनवरी में उनकी वनडे टीम में वापसी हुई है.

युनुस ने कहा, "टीम से बाहर रहना एक मुश्किल दौर था लेकिन मैंने अपना ध्यान बंटने नहीं दिया और अपनी फिटनेस का भी ख्याल रखा क्योंकि मैं जानता था कि मेरा दौर अभी खत्म नहीं हुआ है, मेरे क्रिकेट का अंत ज्यादा बेहतर तरीके से होगा, क्रिकेट छोड़ने से पहले मैं कुछ अच्छा करना चाहता हूं."

शुक्रवार को युनुस के बनाए 73 रनों की मदद से पाकिस्तान ने एक रोमांचक मुकाबले में दक्षिण अफ्रीका को शिकस्त देकर सीरीज में बराबरी की. यूनुस का कहना है कि उन्होंने सीनियर बल्लेबाज होने का अपना फर्ज पूरा किया. यूनुस ने कहा, "मैं टीम में सबसे सीनियर खिलाड़ियों में हूं इसलिए मेरी ये जिम्मेदारी है कि टीम को सुरक्षित निकाल लूं और जब भी मैं ऐसा करने मे कामयाब होता हूं मेरा खुद पर भरोसा बढ़ता है और खुशी होती है." यूनुस को उम्मीद है कि पाकिस्तान दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ फाइनल मैच जीतने में कामयाब होगा. इसके बाद पाकिस्तान की टीम को दक्षिण अफ्रीका के साथ दो टेस्ट भी खेलने हैं जिनमें एक दुबई में और दूसरा अबु धाबी में होगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः महेश झा

DW.COM

WWW-Links