1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

'पाकिस्तान के साथ नहीं खेलना चाहते दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी'

मैच फिक्सिंग के आरोपों से जूझ रही पाकिस्तान क्रिकेट टीम को क्रिकेट जगत में और मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है. खबर है कि दक्षिण अफ्रीका अगले महीने पाकिस्तान के साथ अपनी सीरीज को लेकर ज्यादा उत्साहित नहीं है.

default

पाकिस्तान के मोहम्मद आसिफ

पाकिस्तान को अगले महीने आबू धाबी और दुबई में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज खेलनी है. लेकिन अखबार द डेली टेलीग्राफ ने खबर दी है कि दक्षिण अफ्रीका के सीनियर खिलाड़ी उस सीरीज में खेलना नहीं चाहते और वे सीरीज से हटने के बारे में सोच रहे हैं. एक खिलाड़ी ने अखबार को बताया है, "यह कहना कि हम खेलने में उत्साहित नहीं हैं बात को हल्का करना होगा. पता नहीं पाकिस्तान क्रिकेट के साथ क्या हो रहा है और हमें लगता है कि ऐसे वक्त में मिडल ईस्ट क्रिकेट खेलना मुसीबत को बुलावा देने जैसा हो सकता है."

हालांकि दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट बोर्ड ने इन खबरों को निराधार बताया है. बोर्ड के चीफ एग्जेक्यूटीव गेराल्ड मजोला ने कहा कि किसी खिलाड़ी ने सीरीज से हटने की बात नहीं कही है. लेकिन अखबार के मुताबिक दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ी तो चाहते हैं कि पाकिस्तान को सालभर तक क्रिकेट से दूर रखा जाए. एक खिलाड़ी ने कहा, "शायद अब आईसीसी को आगे आना चाहिए और पाकिस्तान को सालभर तक क्रिकेट से दूर रखना चाहिए, जब तक कि सारा घालमेल साफ नहीं हो जाता. ताकि लोग क्रिकेट पर दोबारा थोड़ा भरोसा करने लगें."

दक्षिण अफ्रीका क्रिकेटर्स एसोसिएशन के चीफ एग्जेक्यूटिव टोनी आयरिश ने भी माना है कि कई खिलाड़ी पाकिस्तान के साथ खेलने में झिझक रहे हैं. हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि इस बारे में किसी ने कोई फैसला लिया है या नहीं. आयरिश ने कहा, "असल में जब जांच चल रही है, तब और घटनाएं हो जाना कोई अच्छी खबर नहीं है. इस पूरे मामले पर फौरन ध्यान देना होगा ताकि पाकिस्तान पर छाए हुए संदेह के बादल जल्द से जल्द साफ हो सकें."

जब आयरिश से पूछा गया कि क्या दक्षिण अफ्रीकी खिलाड़ी पाकिस्तान के साथ नहीं खेलना चाहते तो उन्होंने कहा, "उम्मीद करते हैं कि बात वहां तक नहीं जाएगी."

शनिवार को ब्रिटेन के एक अखबार द सन ने दावा किया कि पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच बीते शुक्रवार खेला गया वन डे मैच फिक्स था. यह तब हुआ है जब टेस्ट मैच में स्पॉट फिक्सिंग के मामले की पहले ही जांच चल रही है और तीन खिलाड़ियों को आईसीसी ने निलंबित किया है.

रिपोर्टः पीटीआई/वी कुमार

संपादनः उज्ज्वल भट्टाचार्य

WWW-Links