1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

पाकिस्तान के चौथे फिक्सर से पूछताछ !

पाकिस्तानी क्रिकेटरों की पोल खोल देने का दावा करने वाले ब्रिटिश अखबार ने आज कुछ और बड़े खुलासे करने का वादा किया है. द न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ने कहा है कि फिक्सिंग से जुड़े चौथे पाकिस्तानी खिलाड़ी से भी पूछताछ हो रही है.

default

टेस्ट टीम के कप्तान सहित तीन बड़े खिलाड़ियों का बैंड बजाने के बाद ब्रिटिश अखबार का दावा है कि पाकिस्तान का चौथा खिलाड़ी भी शक के घेरे में है और आईसीसी उससे पूछताछ कर रही है. हालांकि टैबलॉयड ने इस खिलाड़ी का नाम नहीं बताया है.

मैच फिक्सिंग कांड का खुलासा होने के साथ ही पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान सलमान बट और तेज गेंदबाजों मोहम्मद आमेर और मोहम्मद आसिफ के अलावा विकेट कीपर कामरान अकमल से भी पूछताछ हुई थी. लेकिन बाद में अकमल को शक के घेरे में नहीं रखा गया. पिछले साल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर गई पाकिस्तान की टीम में अकमल के व्यवहार और प्रदर्शन पर सवाल उठ चुके हैं.

द न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ने अपनी वेबसाइट पर लिखा है कि उसने जो खुलासे किए हैं, उसके सारे सबूत उसके पास हैं और वह धीरे धीरे इनको दुनिया के सामने रखने को तैयार है. रविवार को अखबार इस पूरे मामले पर 18 पन्नों की खबर छापेगा.

Cricket Testspiel Pakistan gegen England Oval Stadion

अखबार का दावा है कि पाकिस्तान क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज यासिर हमीद का दावा है कि उनके साथी खिलाड़ी "चोर" हैं. अखबार ने बताया है कि हमीद ने उनसे कहा कि पाकिस्तान के कुछ क्रिकेटर हर मैच को फिक्स कर लेते हैं. अखबार के मुताबिक हमीद ने कहा, "वे हर मैच में ऐसा कर रहे हैं. खुदा जाने वे क्या चाहते हैं. स्कॉटलैंड यार्ड सालों से उनके पीछे पड़ी है. इससे मुझे बहुत गुस्सा आता है क्योंकि मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करता हूं और वे हारने की कोशिश करते हैं."

हालांकि हमीद ने इस बात से इनकार कर दिया है कि उन्होंने द न्यूज ऑफ द वर्ल्ड को कोई इंटरव्यू दिया है. हमीद का कहना है, "मैंने कोई इंटरव्यू नहीं दिया है. इसलिए इस बात का सवाल ही पैदा नहीं होता कि मैं कहूंगा कि मेरे साथी मैच फिक्स कर रहे हैं. इस बात से मैं बहुत व्यथित हूं. मैं पाकिस्तानी मैनेजर को बताना चाहता हूं कि यह गलत है." लेकिन अखबार की वेबसाइट पर इस बात को खास तौर पर तवज्जो देकर प्रकाशित किया गया है.

स्टिंग ऑपरेशन करने वाले अखबार ने दावा किया है कि वह इस काम में इस साल के जनवरी से लगा था और इस सिलसिले में हुई सभी बैठकों, बातचीत और एसएमएस के सबूत पेश करने वाला है. द न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ने कहा है कि वह बहुत ढेर से खुलासे और करने वाला है.

कुछ हलकों में ऐसी चर्चा है कि मजहर मजीद का जो वीडियो दिखाए जा रहे हैं, वो मैच के पहले नहीं, बल्कि बाद में रिकॉर्ड किया गया है. इंग्लैंड में पाकिस्तान के उच्चायुक्त वाजिद शमसुल हसन ने भी इस तरह की बात कही है. लेकिन द न्यूज ऑफ द वर्ल्ड ने दावा किया है कि वह सीसीटीवी कैमरों की रिकॉर्डिंग और दूसरे सबूतों से साबित कर देगा कि यह बातचीत मैच से पहले रिकॉर्ड की गई है. अखबार का कहना है कि उसके पास सबूत के तौर पर ईमेल और कई दूसरे साक्ष्य भी हैं.

अखबार ने रविवार को होने वाले खुलासों के बारे में अपनी वेबसाइट पर विस्तार से जानकारी दी है. इसमें कहा गया है कि पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान सलमान बट को पांच बार इस बात की चेतावनी दी गई थी कि वह बाहरी एजेंसियों से बातचीत से पहले ख्याल रखे. लेकिन जांच टीम को उसके होटल के कमरे से भारी भरकम रकम मिली है, जिसमें ऐसे निशान लगे हैं, जो साबित करते हैं कि ये पैसे द न्यूज ऑफ द वर्ल्ड के रिपोर्टर ने ही दिए हैं.

मैच फिक्सिंग कांड के खुलासे के बाद पाकिस्तान के तीन खिलाड़ियों सलमान बट, मोहम्मद आसिफ और मोहम्मद आमिर को आईसीसी ने सस्पेंड कर दिया है, जबकि सट्टेबाज बताए जा रहे मजहर मजीद को गिरफ्तार करने के बाद जमानत पर रिहा कर दिया गया है. देखना है कि अखबार आज कौन से खुलासे करता है.

रिपोर्टः अनवर जे अशरफ

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links