1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पाकिस्तान के खिलाफ वही टीम उतारेगा इंग्लैंड

पाकिस्तान पर लगातार दो जीत हासिल करने के बाद इंग्लैंड ने तीसरे टेस्ट के लिए अपनी टीम में कोई बदलाव नहीं करने का फैसला किया है. बुधवार से इंग्लैंड और पाकिस्तान के बीच ओवल में तीसरा टेस्ट मैच शुरू हो रहा है.

default

इंग्लैंड ने पहले टेस्ट में पाकिस्तान को 354 रन और दूसरे टेस्ट में नौ विकेट से बुरी तरह पराजित किया है. टीम में टिम ब्रेसनेन को 12 खिलाड़ियों में रखा गया है. हालांकि ब्रेसनेन सोमवार को यार्कशायर के चैंपियनशिप में खेलेंगे और मंगलवार को इंग्लैंड की राष्ट्रीय टीम के पास पहुंचेंगे. अगर टीम को उनकी जरूरत नहीं पड़ी, तो बुधवार को वह यार्कशायर जाकर अपना मुकाबला खेलेंगे.

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अहम ऐशेज सीरीज से पहले इंग्लैंड की यह आखिरी टेस्ट सीरीज है और राष्ट्रीय चयनकर्ता ज्योफ मिलर का कहना है, "हमें इस बात की खुशी है कि टीम ने एजबेस्टन में दूसरे टेस्ट में शानदार प्रदर्शन किया. लगातार मैचों में बेहतर प्रदर्शन बताता है कि टीम कड़ी मेहनत कर रही है. लेकिन इसे सीरीज दर सीरीज बनाए रखने की चुनौती है."

दूसरी तरफ पाकिस्तान की टीम में मुश्किल आ खड़ी हुई है. अपने करियर का पहला टेस्ट खेलते हुए शानदार 80 रन बनाने वाले विकेटकीपर जुलकरनैन हैदर की अंगुली में चोट लग गई है और बुधवार से होने वाले तीसरे टेस्ट में उनका खेलना पक्का नहीं है. लेकिन इस मैच में टीम के दिग्गज बैट्समैन मोहम्मद यूसुफ की वापसी हो जाएगी. वह संन्यास तोड़ कर टेस्ट मैच खेलने इंग्लैंड आए हैं. यहां एक अभ्यास मैच में उन्होंने अच्छी बल्लेबाजी की.

Mohammad Yusuf

संन्यास तोड़कर लौटे हैं मोहम्मद यूसुफ

उन्हें दूसरे टेस्ट से पहले ही टीम में बुलाया गया लेकिन मैच से ठीक पहले पहुंचने की वजह से वह खेलने के लिए फिट नहीं हो पाए. रन बनाने के मामले में यूसुफ पाकिस्तान में तीसरे नंबर पर हैं. उन्होंने 12 शतक की मदद से 7431 रन बनाए हैं. हालांकि ऑस्ट्रेलिया दौरे के बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने उन पर अनिश्चितकाल के लिए पाबंदी लगा दी थी. इसके बाद यूसुफ ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया. लेकिन खुद पीसीबी ने उन्हें फिर से टीम में शामिल कर लिया और यूसुफ मान गए.

पाकिस्तान को टेस्ट मैचों में कुछ ज्यादा रन बनाने की दरकार है. पहले टेस्ट में उनकी टीम एक पारी में 80 पर आउट हो गई थी, दूसरे मैच में सिर्फ 72 पर. शायद यूसुफ भरपाई कर पाएं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links