1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

'पाकिस्तान और भ्रष्टाचार से दुखी हैं भारतीय'

ज्यादातर भारतीय पाकिस्तान और लश्कर ए तैयबा को देश के लिए सबसे बड़ा खतरा मानते हैं. हर देश में लोगों का मिजाज भांपने वाली संस्था के सर्वें में ज्यादातर भारतीय अपने देश से नाराज दिखे. अपराध और भ्रष्टाचार से तंग हैं.

default

ग्लोबल एटीट्यूड प्रोजेक्ट के तहत कराए गए सर्वे में कहा गया है कि 58 फीसदी भारतीय मानते हैं कि पाकिस्तान सरकार और आतंकवादी संगठनों के बीच साठगांठ हैं. सर्वे करने वाली संस्था प्यू रिसर्च के मुताबिक, ''एक तिहाई भारतीय पाकिस्तान को सबसे बड़ा खतरा मानते हैं. ज्यादातर भारतीयों को लगता है कि लश्कर ए तैयबा और पाकिस्तान सरकार के बीच मिलीभगत है. सिर्फ 21 प्रतिशत भारतीयों को लगता है कि पाकिस्तान सरकार आतंकवादी संगठनों के साथ नहीं है लेकिन उन्हें बर्दाश्त करती है.''

Flash-Galerie Indien Commonwealth Games Delhi 2010

57 फीसदी भारतीय अर्थव्यवस्था से खुश

सर्वे में युद्ध के उन्माद का जिक्र भी किया गया है. सर्वे कहता है, ''अगर पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन भारत में कोई और बड़ा हमला करते हैं तो वे पाकिस्तान के खिलाफ भारतीय सेना की कार्रवाई का समर्थन करेंगे.'' यह बात काफी चौंकाने वाली है. दोनों देश जानते हैं कि ऐसी स्थिति युद्ध को जन्म देगी. भारत और पाकिस्तान दोनों परमाणु हथियारों से लैस हैं.

सर्वे में भारत के 2,254 वयस्कों की राय ली गई. इसमें कई अन्य बातें भी सामने आईं. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की लोकप्रियता भले ही अमेरिका में कम हुई हो, लेकिन भारत में वह अच्छी छवि में बने हुए हैं. 70 फीसदी भारतीयों का मानना हैं कि उन्हें ओबामा पर भरोसा है.

57 फीसदी भारतीयों का मानना है कि देश की अर्थव्यवस्था अच्छी स्थिति में है. लेकिन सर्वे में हिस्सा लेने वाले ज्यादातर भारतीयों ने माना कि भ्रष्टाचार और अपराध की वजह से देश की बुरी दशा है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: वी कुमार

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री