1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

पाकिस्तान ईरान सीमा पर 15 लाशें मिलीं

पाकिस्तानी पुलिस को ईरान की सीमा पर गोली से छलनी 15 लाशें मिली हैं. अलगाववादी आंदोलन झेल रहा बलूचिस्तान लोगों को अवैध रूप से यूरोप ले जाने वाले मानव तस्करों का पसंदीदा रास्ता भी है.

ये लाशें बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा से 600 किलोमीटर बुलेदा में मिलीं. बुलेदा के जिला आयुक्त ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि मृतकों के पास से मिले दस्तावेजों के अनुसार वे अवैध रूप से ईरान जा रहे थे. पाकिस्तान और दक्षिण एशिया के दूसरे देशों में मानव तस्करी बड़ा कारोबार है. पहले भी सीमा के इलाकों में विदेश जा रहे कामगारों को मारे जाने के मामले हुए हैं. इसके अलावा समुद्र या सड़क मार्ग से जाते हुए भी लोगों के मरने की घटना होती है.

बंगलजई ने कहा है कि ये स्पष्ट नहीं है कि इन लोगों को किस वजह से मारा गया. उनके अनुसार सारे लोग पाकिस्तान के पूर्वी प्रदेश पंजाब के थे. "हम उनके परिवार के साथ संपर्क कर रहे हैं." एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि इन लोगों का मंगलवार को अपहरण किये जाने की खबर मिली थी. अब तक किसी संगठन ने इस घटना की जिम्मेदारी नहीं ली है.

बलूचिस्तान अफगानिस्तान की सीमा पर है और पिछले सालों में हिंसा से प्रभावित रहा है. वहां लंबे समय से अलगाववादी आंदोलन चल रहा है. स्थानीय लोग क्षेत्रीय संसाधनों में ज्यादा हिस्सेदारी की मांग कर रहे हैं . इसके अलावा वहां अल कायदा, तालिबान और इस्लामिक स्टेट से जुड़े इस्लामी कट्टरपंथी भी सक्रिय हैं.

बलूचिस्तान में हो रही हिंसा से चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे में 57 अरब डॉलर की परियोजनाओं के लिए सुरक्षा पर सवालिया निशान लग रहे हैं. इसके तहत चीन पाकिस्तान से होकर ग्वादर पोर्ट तक परिवहन और ऊर्जा का संपर्क बनाना चाहता है. इसके जरिये पश्चिमी चीन को ग्वादर होते हुए पश्चिम एशिया के साथ जोड़ा जा सकेगा. यह रास्ता पश्चिम एशिया से तेल के आयात और उस इलाके को चीनी मालों के निर्यात के लिए फायदेमंद होगा. 

एमजे/एनआर (रॉयटर्स)

संबंधित सामग्री