1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

पाकिस्तानी मेजरों को इंटरपोल रेड कॉर्नर नोटिस

अंतरराष्ट्रीय पुलिस इंटरपोल ने पाकिस्तान में सेवारत दो सेना मेजरों के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया है. उन पर नवंबर, 2008 में मुंबई के आतंकवादी हमलों की साजिश रचने का आरोप है. भारत में भी उन पर मुकदमा.

default

इससे पहले दिल्ली की एक अदालत ने इन दोनों पाकिस्तानी मेजरों के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किए. इस कदम के बाद भारत की संघीय जांच एजेंसी एनआईए ने इंटरपोल को यह बात बताई, जिसने रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया.

किसी देश की कानून लागू कराने वाली एजेंसियों के अनुरोध पर इंटरपोल रेड कॉर्नर नोटिस जारी करता है, खास कर तब, जब कोई आरोपी गिरफ्तारी से बचने में लगा होता है. इंटरपोल अनुरोध करने वाली एजेंसी की मदद करता है ताकि आरोपी गिरफ्तार किया जा सके और उसका प्रत्यर्पण हो सके.

पाकिस्तानी मूल के अमेरिकी संदिग्ध आतंकवादी डेविड हेडली के खुलासों के बाद ही भारतीय अदालत ने दो मेजरों के खिलाफ वारंट जारी किया है. लश्कर के संदिग्ध आतंकी हेडली से इस साल एनआईए ने गहन पूछताछ की है. हेडली ने खुल कर बताया कि 26/11 यानी मुंबई पर नवंबर, 2008 के आतंकवादी हमलों की साजिश किस तरह रची गई.

रेड कॉर्नर नोटिस मेजर समीर अली और मेजर इकलाब के खिलाफ जारी किया गया है. ये दोनों ही पाकिस्तानी सेना में कार्यरत हैं. इसके अलावा तीन और लोगों के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी हुआ है. लश्कर ए तैयबा के आतंकवादी इलियास कश्मीरी, साजिद मजीद और सैयद अब्दुल रहमान हाशिम.

सुरक्षा एजेंसियों ने लश्कर के संस्थापक हाफिज सईद के नजदीकी साथी जकी उर रहमान लखवी के खिलाफ मुंबई आतंकवादी हमले में पहले ही रेड कॉर्नर नोटिस जारी हो चुका है. एनआईए का कहना है कि इन तमाम लोगों ने डेविड हेडली के साथ मिल कर मुंबई के आतंकवादी हमलों की साजिश रची.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः आभा एम

DW.COM

WWW-Links