1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पाकिस्तानी गेंदबाजों ने पलटा मैच का पासा

पाकिस्तानी गेंदबाज किसी भी मैच का पासा पलटने की ताकत रखते हैं. शुक्रवार को यह बात फिर साबित हुई जब तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन इंग्लैंड की हालत खस्ता हो गई और उसे गेंदबाजों ने हार के कगार पर पहुंचा दिया.

default

पहली पारी में इंग्लैंड पाकिस्तान से 75 रन से पिछड़ रहा था. लेकिन तीसरे दिन के लंच तक के खेल में ऐसा लगने लगा कि इंग्लैंड मैच में बराबरी पर आ जाएगा. तीसरे दिन लंच के वक्त इंग्लैंड के दो ही विकेट गिरे थे जबकि उसका स्कोर 110 पर पहुंच गया. उस वक्त एलेस्टर कुक अपनी सेंचुरी के करीब थे और जोनाथन ट्रॉट उनका साथ बखूबी निभा रहे थे. तब इंग्लैंड काफी सहजता से आगे बढ़ रहा था. लंच तक के खेल में पाकिस्तानी गेंदबाज कुछ खास नहीं कर पाए और उन्हें एक ही विकेट मिला.

लेकिन लंच के बाद तो गेंदबाजों में अलग ही जोश नजर आया और इंग्लैंड के विकेट जैसे टपकने लगे. हालांकि कुक की सेंचुरी पूरी हुई, लेकिन 110 रन के स्कोर पर वह आउट हो गए. इसके बाद तो सईद अजमल और मोहम्मद आमिर जैसे विकेट लेने के लिए ही गेंद फेंक रहे थे. कुक का विकेट जब गिरा तब इंग्लैंड 156 रन पर था. उसके बाद भी ट्रॉट, कॉलिंगवुड और मॉर्गन बाकी थे. लेकिन अजमल और आमिर के आगे किसी की नहीं चली.

पीटरसन, ट्रॉट और कॉलिंगवुड तीनों को पाकिस्तानी गेंदबाजों ने सिर्फ आठ रन के भीतर चलता कर दिया. अगले 18 रन के भीतर मॉर्गन, प्रायर और स्वान भी पैविलियन लौट चुके थे. अजमल और आमिर दोनों ने चार-चार विकेट लिए.

शाम को खराब रोशनी की वजह से जब खेल को रोका गया, तब इंग्लैंड के पास सिर्फ 146 रन की लीड थी और खेलने के लिए एक ही विकेट बचा था. स्टंप्स के वक्त पाकिस्तानी कप्तान सलमान बट अपने भरोसेमंद गेंदबाजों की बदौलत बहुत आराम से इस उम्मीद में पैविलियन लौटे कि चौथे दिन इंग्लैंड के आखिरी खिलाड़ी को सस्ते में निपटा कर जीत के लिए जरूरी छोटा सा लक्ष्य आसानी से हासिल कर लिया जाएगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ओ सिंह

WWW-Links