पाकिस्तानी कलाकारों से संवरा बॉलीवुड | मनोरंजन | DW | 23.10.2013
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

पाकिस्तानी कलाकारों से संवरा बॉलीवुड

बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार के मुताबिक पाकिस्तानी कलाकारों ने भारतीय सिनेमा के कई पलों को यादगार बनाया है. पाकिस्तानी कलाकारों से मिली प्रेरणा की वजह से ही भारत में स्टैंड अप कॉमेडी की प्रतिभा सामने आई.

भारत और पाकिस्तान के बीच भले कितने ही विवाद हों, लेकिन दोनों देशों के कलाकार लंबे अरसे से एक दूसरे के साथ काम करते रहे हैं. वो एक जैसी संस्कृतियों से आते हैं, जज्बात और बोल चाल की भाषा के लिहाज से भी वो एक से हैं. उनका दर्शक वर्ग भी कई मायनों में एक है. यही वजह है कि भारतीय और पाकिस्तानी कलाकारों को साथ काम करने में आसानी होती है. लंबे वक्त से पाकिस्तान के कई कलाकार भारतीय फिल्म उद्योग में अपना हुनर दिखाते रहे हैं. कुछ भारतीय कलाकार भी पाकिस्तानी नाटकों और फिल्मों में अभिनय करते आए हैं.

इसी सिलसिले की ताजा कड़ी बॉलीवुड अभिनेता अक्षय कुमार बने हैं. 40 साल के बॉलीवुड स्टार अक्षय कुमार इस वक्त पाकिस्तान की व्यावसायिक राजधानी कहे जाने वाले शहर कराची में हैं. बुधवार को 'द एक्सप्रेस ट्रिब्यून' अखबार से बातचीत करते हुए अक्षय ने कलाकारों के मेल जोल का जिक्र किया. पाकिस्तानी कलाकारों की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा, "वजनदार संवाद हों या संगीत की अद्भुत प्रतिभा, पाकिस्तानियों ने बॉलीवुड में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. बॉलीवुड के कुछ बेहतरीन और यादगार गाने पाकिस्तानी कलाकारों ने गाए हैं. साथ काम करने के लिहाज से अनंत संभावनाएं हैं."

पाकिस्तान के मशहूर हास्य कलाकार उमर शरीफ का जिक्र करते हुए भारतीय अभिनेता ने कहा, "मैं उमर शरीफ को तब से देख रहा हूं जब से मैं इस उद्योग में आया हूं, 20 साल से भी ज्यादा समय से. वो बेहतरीन सर्वकालीन हास्य अभिनेताओं में से एक हैं. उनकी कॉमिक टाइमिंग और कहने के अंदाज का मैं कायल हूं."

बीते एक दशक में भारत में स्टैंड अप कॉमेडी का चलन परवान चढ़ा है. राजू श्रीवास्तव, सुनील पाल या कपिल शर्मा जैसे कलाकार टीवी स्क्रीन पर छाये रहते हैं. हालांकि इस बीच हास्य के नाम पर भद्दे हास्य की बाढ़ भी आई है. अक्षय कुमार के मुताबिक लोगों को हंसाना आसान नहीं, "कागज पर कोई भले ही चुलबुला हो लेकिन अगर टाइमिंग ठीक नहीं है तो चुटकुला खो जाता है. मिस्टर उमर शरीफ मैं आपके तोहफे को सलाम करता हूं." वैसे ये बात कम ही लोग जानते हैं कि जो स्टैंड अप कॉमेडी फिलहाल भारत में परवान चढ़ रही हैं उसे पाकिस्तान में उमर शरीफ बहुत पहले ही शुरू कर चुके हैं. स्टैंड अप कॉमेडी के मामले में तो उमर शरीफ ज्यादातर कॉमेडियन के आदर्श हैं.

ओएसजे/एनआर (पीटीआई)

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री