पांच गोल्ड के साथ भारत दूसरे स्थान पर | वर्ल्ड कप 2014 | DW | 06.10.2010
  1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

पांच गोल्ड के साथ भारत दूसरे स्थान पर

भारतीय पहलवानों ने दबदबा कायम करते हुए ग्रीको रोमन कुश्ती में मंगलवार को दांव पर लगे तीनों स्वर्ण अपने नाम किए. निशानेबाजों ने भी किया शानदार प्रदर्शन और जीते दो गोल्ड मेडल. पांच स्वर्ण पदकों के साथ भारत दूसरे स्थान पर.

default

केडी जाधव स्टेडियम में मंगलवार को भारतीय नारों की गूंज रही. ग्रीको रोमन स्टाइल कुश्ती में रविंदर सिंह ने 60 किलोग्राम, संजय ने 74 किलोग्राम और अनिल कुमार ने 96 किलोग्राम वर्ग में प्रतिद्वंद्वियों को कोई मौका नहीं दिया और सीधे गोल्ड पर कब्जा किया. रविंदर इससे पहले कॉमनवेल्थ चैंपियन रह चुके हैं और एशियाई चैंपियनशिप में वह कांस्य पदक जीत चुके हैं. रविंदर ने अपने मुकाबलों को बेहद आसानी से जीता.

श्रीलंका के ए कुमारा को उन्होंने 7-0, 6-0 से हराया, फिर नाइजीरिया के रोमियो जोसेफ को 2-0, 6-0 से हराकर उन्होंने फाइनल में जगह पक्की की. गोल्ड की जंग में रविंदर ने इंग्लैंड के टेरेंस बोसोन को 2-0, 7-0 से पछाड़ दिया. जीत के बाद बेहद खुश रविंदर ने कहा कि कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड जीतना शानदार अनुभव है और जीत का श्रेय उनके कोच और प्रशंसकों को जाता है.

वहीं संजय ने कॉमनवेल्थ चैंपियन दक्षिण अफ्रीका के रिचर्ड एडीनाल को 1-0, 1-0 से हरा कर सबको हैरान कर दिया और भारत के लिए दूसरा गोल्ड मेडल जीता. संजय भी कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में कांस्य पदक विजेता रह चुके हैं. फाइनल में पहुंचने से पहले संजय ने समोआ के लाउपू एकेरोमा को 1-0, 2-0 से चित्त किया और नाइजीरिया के किरीबाइन को 1-0, 1-0 से हराया.

अनिल कुमार ने फाइनल ने ऑस्ट्रेलिया के हसाने फ्कीरी को हरा कर भारतीय खेमे में जश्न का माहौल ला दिया. जिस वक्त कुश्ती रोकी गई उस समय अनिल 3-0, 3-0 से आगे थे. ऑस्ट्रेलियाई पहलवान को मुकाबले के दौरान तीन बार अनुशासनहीनता की चेतावनी दी गई लेकिन वह नहीं माने और उन्हें अयोग्य घोषित कर दिया. एक और गोल्ड भारत के नाम.

इससे पहले भारतीय निशानेबाजों ने भी अपने लक्ष्यों को भेदते हुए गोल्ड मेडल हासिल किया. पहला गोल्ड अभिनव बिंद्रा और गगन नारंग की जोड़ी ने 10 मीटर एयर रायफल स्पर्धा में जीता. बिंद्रा और नारंग से टीम को मिली खुशी राही सर्नोबत और अनीसा सईद ने बरकरार रखी और महिलाओं की 25 मीटर पिस्टल स्पर्धा में उन्होंने भी स्टाइल में स्वर्ण जीता. दीपक शर्मा और ओंकार सिंह की जोड़ी ने पुरुष 50 मीटर पिस्टल इवेंट में सिल्वर मेडल जीता.

वर्ल्ड चैंपियन तेजस्वनी सावंत और लज्जाकुमार गोस्वामी 50 मीटर रायफल 3 पोजीशन में दूसरे स्थान पर रही और उन्हें रजत पदक मिला. 5 स्वर्ण पदक, 4 रजत पदक और 2 कांस्य पदक के साथ भारत अब पदक तालिका में दूसरे स्थान पर है. ऑस्ट्रेलिया के 9 स्वर्ण पदक, 10 रजत पदक और 5 कांस्य पदक हैं और वह पहले नंबर पर है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: उ भट्टाचार्य

DW.COM

WWW-Links