1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पद छोड़ें श्रीनिवासनः सुप्रीम कोर्ट

भारतीय सुप्रीम कोर्ट ने दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई के प्रमुख से सख्त लहजे में पद छोड़ने को कहा है. आईपीएल में मैच फिक्सिंग की निष्पक्ष जांच के लिए कोर्ट ने यह निर्देश दिया.

बीसीसीआई प्रमुख एन श्रीनिवासन को पद हटने को सुप्रीम कोर्ट ने बहुत ही साफ ढंग से कहा. जस्टिस पटनायक ने कहा, "क्यों श्रीनिवासन कुर्सी से चिपके हुए हैं. अगर आप पद नहीं छोड़ेंगे तो हम आदेश जारी करेंगे."

आईपीएल में सट्टेबाजी और स्पॉट फिक्सिंग का पता पिछले साल चला. पुलिस ने टीम इंडिया के पूर्व तेज गेंदबाज श्रीसंत समेत कुछ खिलाड़ियों को गिरफ्तार किया. जांच की आंच बीसीसीआई प्रमुख श्रीनिवासन के दामाद और चेन्नई सुपरकिंग्स के टीम प्रिसिंपल गुरुनाथ मयप्पन तक पहुंची. जांच समिति को संकेत मिले कि मयप्पन सटोरियों के संपर्क में था और उन तक जानकारी पहुंचा रहा था.

Indien Kricketspieler Sreesanth

फंसे श्रीसंत

मंगलवार को सर्वोच्च अदालत ने माना कि अगर मयप्पन के ससुर श्रीनिवासन बीसीआईआई प्रमुख के पद पर बने रहेंगे तो जांच प्रभावित होगी. कोर्ट ने कहा, "जब तक बीसीसीआई अध्यक्ष पद नहीं छोड़ते हैं तब तक निष्पक्ष जांच नहीं हो सकेगी."

पिछले साल बीसीसीआई ने इस मामले की जांच के लिए अपनी दो सदस्यीय समिति बनाई. समिति ने मयप्पन को पाक साफ करार दिया. हालांकि कमेटी के इस फैसले को बाद में बॉम्बे हाई कोर्ट ने "गैरकानूनी और असंवैधानिक" करार दिया. अदालत ने जांच के लिए रिटायर्ड जज मुकुल मुदगल की अगुवाई में समिति बनाई. सुप्रीम कोर्ट ने कमेटी की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा, "मुदगल कमेटी की जांच में कोई सटीक खोज सामने नहीं आई है लेकिन ये आरोप बहुत ही गंभीर हैं."

अदालत का यह फैसला श्रीनिवासन के लिए बड़ा झटका है. सट्टेबाजी और स्पॉट फिक्सिंग सामने आने के बाद पिछले साल श्रीनिवासन कुछ दिनों तक पद से हटे लेकिन बाद में वह लौट आए. श्रीनिवासन को जुलाई 2014 से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) का प्रमुख बनना है.

ओएसजे/एजेए (एपी, एएफपी)