1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

पड़ोसियों को दूर करता आईपीएल

पैसे बनाने की मशीन बन चुकी आईपीएल में पाकिस्तान के बाद श्रीलंका भी किनारे लगता दिख रहा है. तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता ने कहा है कि अगर श्रीलंका के खिलाड़ी या अंपायर आए, तो वहां मैच नहीं होगा.

भारतीय मीडिया का दावा है कि जयललिता की धमकी के बाद आईपीएल की टीमों ने श्रीलंकाई खिलाड़ियों को तमिलनाडु में होने वाले मैचों से दूर रखने का फैसला कर लिया है. हालांकि जब वे इन मैचों में नहीं खेलेंगे, तो उन्हें इसके बदले मुआवजा दिया जाएगा.

श्रीलंका में तमिलों के साथ हो रहे बर्ताव को लेकर तमिलनाडु में श्रीलंका के खिलाफ जबरदस्त भावनाएं भड़की हुई हैं, जिसे राजनीतिक दल और हवा दे रहे हैं. संयुक्त राष्ट्र में श्रीलंका के मुद्दे पर वोटिंग के नाम पर केंद्र सरकार में शामिल करुणानिधि की डीएमके ने अपने मंत्री हटा लिए हैं. राजनीति के जानकारों का कहना है कि इसके बाद तमिलनाडु की मुख्यमंत्री इस मुद्दे पर पिछड़ गई थीं, जिसकी भरपाई वह आईपीएल में श्रीलंकाई खिलाड़ियों के दम पर निकाल रही हैं. अगले साल भारत में आम चुनाव हैं और राजनीतिक पार्टियों के लिए वोट बैंक से बड़ा कुछ नहीं होता.

जयललिता ने भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को पत्र लिखा है कि उनके राज्य में आईपीएल के मैचों को तभी मंजूरी मिलेगी, जब उसमें श्रीलंका के खिलाड़ी, अंपायर या दूसरे स्टाफ शामिल नहीं होंगे. इसके बाद भारतीय क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीसीआई में हलचल तेज हो गई. भारतीय मीडिया का कहना है कि बोर्ड ने सभी टीमों से अनुरोध किया है कि आईपीएल की कामयाबी के लिए वह तमिलनाडु में होने वाले मैचों में अपनी अपनी टीमों से श्रीलंका के खिलाड़ियों को हटा लें.

इंडियन प्रीमियर लीग यानी आईपीएल का यह छठा साल है और हर साल यह पहले से ज्यादा कमाऊ टूर्नामेंट साबित होता गया है. श्रीलंका से पहले पाकिस्तान के खिलाड़ियों की वजह से भी आईपीएल विवादों में आ चुका है. पहले आईपीएल यानी 2008 के बाद ही भारत में 26/11 का आतंकवादी हमला हुआ और भारत सरकार का दावा है कि इसकी साजिश पाकिस्तान में रची गई. इसके बाद से पाकिस्तानी खिलाड़ियों के लिए आईपीएल में अघोषित प्रतिबंध लग गया. यहां तक कि बोली लगाते वक्त उनका नाम सामने आता भी तो कोई टीम उन्हें नहीं खरीदती. शिव सेना जैसी कट्टर पार्टियों ने क्रिकेट में दरार बढ़ाने का काम किया और उन्होंने धमकी दी कि जो भी टीम पाकिस्तान के खिलाड़ियों को खेलाएगा, उसके साथ ठीक नहीं होगा.

भारत पर आतंकवादी हमले के बाद 2009 का आईपीएल दक्षिण अफ्रीका में खेला गया. हालांकि वह भी एक सफल आयोजन साबित हुआ. ताजा विवाद के बाद आईपीएल कमिश्नर राजीव शुक्ला का कहना है कि हल निकाल लिया जाएगा, "हम हल ढूंढ रहे हैं और यह बात भी साफ कर देना चाहते हैं कि चेन्नई में मैच होंगे. हमें स्थानीय लोगों की भावनाओं और श्रीलंका के खिलाड़ियों की सुरक्षा को देखना है."

चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल की प्रमुख टीमों में गिनी जाती है. भारतीय राष्ट्रीय टीम के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की अगुवाई वाली यह टीम कुल पांच में से चार बार फाइनल तक पहुंची है और दो बार इसने खिताब पर कब्जा भी किया है. चेन्नई में कुल 10 मैच होने हैं, जिनमें दो प्ले ऑफ मैच भी शामिल हैं. आईपीएल में दो कप्तानों सहित कुल 13 श्रीलंकाई खिलाड़ी हैं. अगर उन्हें फाइनल में पहुंचना होगा, तो कप्तान और श्रीलंकाई खिलाड़ियों के बिना ही चेन्नई के मैच खेलने होंगे.

एजेए/ओएसजे (पीटीआई, एपी)

DW.COM

WWW-Links