1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

पंडित भीमसेन जोशी का निधन

मौजूदा दौर में भारतीय शास्त्रीय संगीत के शिखर पुरुष पंडित भीमसेन जोशी का निधन हो गया है. सोमवार को पुणे के एक अस्पताल में उन्होंने आखिरी सांस ली. उन्हें 2008 में भारत के सबसे बड़े नागरिक सम्मान भारत रत्न से नवाजा गया.

default

पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के साथ पंडित भीमसेन जोशी

89 वर्षीय पंडित जोशी को 31 दिसंबर को पुणे के सहायद्री अस्पताल में भर्ती कराया गया था. उन्हें किडनी फेल होने जाने की वजह से बराबर डायलासिस पर रखा जा रहा था. मशहूर तबला वादक जाकिर हुसैन उनसे अस्पताल में मिलने भी गए. किराना घराना से संबंध रखने वाले पंडित जोशी ने सोमवार को दुनिया को अलविदा कह दिया.

2008 में भारत रत्न से सम्मानित होने वाले पंडित जोशी ने हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत को नई ऊंचाइंया दी. खास कर ऐसे समय में जब चलताऊ संगीत के दौर में शास्त्रीय संगीत को सहेज कर रखना किसी भागीरथी प्रयास से कम नहीं है. उन्होंने अपनी खुद की शैली विकसित की. उन्हें पद्मश्री, पद्म भूषण और पद्म विभूषण समेत कई पुरस्कारों से सम्मानित किया गया.

बालमुरली कृष्णन और लता मंगेशकर के साथ मिल कर उन्होंने मिले सुर मेरा तुम्हारा को रंग दिया कि उसे कोई भी भारतीय नहीं भूल सकता. 1988 में रचे गए इस गीत ने सबके दिलों को इस तरह छुआ कि वह एक तरह से भारत का अनाधिकारिक राष्ट्रीय गीत बन गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एस गौड़

DW.COM

WWW-Links