1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

न्यूज़ीलैंड का पत्ता काट इंग्लैंड सेमीफ़ाइल में

इंग्लैंड धमाकेदार ढंग से टी-20 वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल में पहुंचा. सोमवार को इंग्लैंड ने न्यूज़ीलैंड को तीन विकेट से हराया. इंग्लैंड की जीत से न्यूज़ीलैंड को मायूसी और पाकिस्तान को राहत मिली.

default

हारा न्यूज़ीलैंड

ब्रिजटाउन में दक्षिण अफ़्रीका पर जीत हासिल करने के बाद पाकिस्तानी खिलाड़ियों की नज़रें न्यूज़ीलैंड और इंग्लैंड के मैच पर टिकी थी. इंग्लैंड की जीत से ही पाकिस्तान के लिए वर्ल्ड कप से सेमीफाइनल का दरवाज़ा खुलना था और यही हुआ भी.

करो या मरो के मैच में न्यूज़ीलैंड ने टॉस जीता और बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया. सलामी बल्लेबाज़ ब्रैंडन मैक्कुलम ने 33 रन बनाए लेकिन उनके साथी राइडर और रेमंड जल्द विकेट गंवा बैठे. मैक्कुलम भी चलते बने. इसके बाद रॉस टैलर और स्कॉट स्टाइरिश के बीच अच्छी साझेदारी हुई. दोनों ने चौथे विकेट के लिए 62 रन जोड़े. स्टाइरिश ने 31 और टैलर ने 44 रन बनाए. दोनों के आउट होते ही पुछल्ले बल्लेबाज़ कोई कमाल नहीं दिखा पाए. कीवी टीम 20 ओवर में 149 रन ही बना सकी.

कैरेबियाई पिचों के मिज़ाज को देखते हुए स्कोर ठीक लेकिन इंग्लैंड की ज़बरदस्त फॉर्म के सामने फीका था. सलामी बल्लेबाज़ क्रैग काइज़वैटर और माइकल लुंब ने टीम को सधी शुरूआत दी. लुंब 31 और काइज़वैटर 15 रन बनाकर आउट हुए. काइज़वैटर का विकेट गिरने के बाद रवि बोपारा भी नौ रन बनाकर चलते बने लेकिन तब तक टीम लक्ष्य से मात्र 90 रन दूर थी और हाथ में क़रीब 13ओवर थे.

इसके बाद कप्तान कोलिंनवुड क्रीज़ पर आते ही वापस लौटे तो इंग्लैंड कुछ दबाव में आ गया. लेकिन भरोसेमंद युवा ऑलराउंडर मोर्गन और राइट ऐन वक्त पर चल पड़े. मोर्गन 40 और राइट 24 रन बनाकर आउट तो हुए लेकिन तब तक इंग्लैंड जीत के करीब पहुंच चुका था. रही सही कसर 11 गेंदों में 23 रन ठोककर ब्रैसनन ने पूरी कर दी.  उनकी किफायती गेंदबाज़ी और आतिशी बल्लेबाज़ी से इंग्लैंड को तीन विकेट से जीत हासिल हुई और न्यूज़ीलैंड को बोरिया बिस्तर पैक करना पड़ा. ब्रैसनन को मैन ऑफ़ द मैच चुना गया.

इंग्लैंड के जीतते ही न्यूज़ीलैंड वर्ल्ड कप से बाहर और पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंच गया. इस तरह सेमीफ़ाइल में अब तक इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान पहुंच चुके हैं.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: आभा मोंढे

संबंधित सामग्री