1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नौ घंटे चली राजा से पूछताछ

पूर्व टेलीकॉम मंत्री ए राजा से शुक्रवार को सीबीआई ने पूछताछ की. सवाल जवाब का यह दौर नौ घंटे तक चला. डीएमके नेता से तारीखों को बदलकर पहले ही 2जी स्पेक्ट्रम बांटे जाने के बारे में सवाल किए गए.

default

वादे के मुताबिक 24 दिसंबर यानी शुक्रवार को राजा जांच एजेंसी के सामने पेश हुए जो स्पेक्ट्रम घोटाले की जांच कर रही है. 47 वर्षीय राजा के सामने एंजेसी ने कई दस्तावेज रखे जो अलग अलग जगह मारे गए छापों में बरामद हुए हैं. उनसे स्पेक्ट्रम पाने वाली कंपनियों में उनके रिश्तेदारों के बारे में भी सवाल पूछे गए.

सीबीआई राजा के घर और अन्य ठिकानों की भी तलाशी ले चुकी है. नौ घंटे की पूछताछ के बाद नीलगिरी से डीएमके सांसद राजा को घर जाने दिया गया लेकिन सीबीआई सूत्रों ने बताया कि उन्हें दोबारा भी बुलाया जा सकता है क्योंकि एजेंसी कुछ और सवालों के जवाब उनसे चाहती है.

पूछताछ के बाद सीबीआई मुख्यालय से निकले राजा अपने चेहरे को सामान्य रखने की कोशिश कर रहे थे. उन्होंने कहा कि वह सीबीआई से पूरा सहयोग कर रहे हैं. राजा ने कहा, "जांच एजेंसी के साथ मैंने पूरा सहयोग किया. बाकी मैं कुछ नहीं कहूंगा क्योंकि अभी जांच चल रही है."

Nira Radia

14 नवंबर को मंत्रीपद से इस्तीफा देने के बाद राजा चेन्नई चले गए थे. बुधवार को ही वह दिल्ली आए क्योंकि सीबीआई ने उन्हें हाजरी का नोटिस भेजा था.

सीबीआई प्रवक्ता, डीआईजी बिनीता ठाकुर ने पूछताछ के बारे में कोई जानकारी नहीं दी. उन्होंने कहा, "राजा से लाइसेंस आवंटन के बारे में पूछताछ की गई." लेकिन सूत्रों के मुताबिक राजा से जो सवाल पूछे गए उनमें लॉबीइस्ट नीरा राडिया से उनकी बातचीत का जिक्र भी आया. राडिया और उनके बीच की फोन पर हुई बातचीत के टेप सामने आ चुके हैं. इस टेप में संदिग्ध रूप से राजा और राडिया टेलीकॉम कंपनियों को फायदा पहुंचाने की बात कर रहे हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः आभा एम