1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

नौवें विकेट की रिकॉर्ड साझेदारी से जीता श्रीलंका

ऐंगेलो मैथ्यू और लसिथ मलिंगा की नोंवे विकेट की रिकॉर्ड साझेदारी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बने 132 रनों ने श्रीलंका को एक विकेट से जीत दिला दी. जीत के मुहाने पर खड़ा ऑस्ट्रेलिया अब हार पर आंसू बहा रहा है.

default

ऑस्ट्रेलिया के दिए 240 रनों के लक्ष्य के आगे श्रीलंकाई शेर भीगी बिल्ली बने बैठे थे और एक के बाद एक विकेट गिरते जा रहे थे. हालत यह थी कि मैथ्यू के बल्ला संभालने के पहले महज 107 रनों पर आठ खिलाड़ी आउट हो चुके थे. ऐसे में जीत तो दूर क्रिकेट के पंडित 150 रन का आंकड़ा पार करने की भविष्यवाणी करने की हालत में नहीं थे. यह मान लिया गया था कि अब श्रीलंका को शिकस्त झेलनी है. पर धन्य हैं मैथ्यू जिन्होंने लसिथ मलिंगा के साथ मिलकर कंगारुओं की ऐसी ठुकाई की कि वे उम्र भर नहीं भूलेंगे.

Lasith Malinga

107 से शुरू हुई नई गिनती सीधे 239 पर तब रुकी जब मलिंगा 56 रन के स्कोर पर रन आउट हो गए. हालांकि वह अपना काम पूरा कर चुके थे और मैच ड्रॉ तक पहुंच चुका था. जीत के लिए बाकी बचा एक रन बनाने आए मुथैया मुरलीधरन ने गेंद को बाउंड्री के पार पहुंचा कर विजय पताका लहराई.

इससे पहले भारत के कपिल देव और सैयद किरमानी ने 1983 में जिम्बाब्वे के खिलाफ नौवें विकेट की साझीदारी में 126 रन बनाए थे. यह रिकॉर्ड आज ध्वस्त हो गया. सभी तरह के मैच मिला दें तो ऑस्ट्रेलिया की यह लगातार नौंवी हार है जो जुलाई से ही चली आ रही है. इसी साल के अंत में उन्हें एशेज सीरीज खेलने इंगलैंड जाना है.

बहरहाल जीत तो श्रीलंका को मिली और नायक बने मैथ्यू और मलिंगा लेकिन बाएं हाथ के फिरकी गेंदबाज जेवियर डोहर्टी का करिश्मा भी कुछ कम नहीं था जिन्होंने न सिर्फ चार विकेट चटकाए बल्कि एक खिलाड़ी को रन आउट कर मेजबान टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया. यह जेवियर का पहला अंतरराष्ट्रीय मैच था और इसके साथ ही दुनिया ने उनका कमाल देख लिया.

मेहमान टीम की तरफ से तेज गेंदबाज थिसारा परेरा ने 46 रन देकर 5 विकेट लिए लेकिन फॉर्म में लौटे माइकल हसी के 71 नाबाद रनों की बदौलत आस्ट्रेलियाई टीम आठ विकेट खोकर 239 रन बनाने में कामयाब रही.

दोनों टीमों के बीच दूसरा मैच सिडनी में शुक्रवार को होगा. सीरीज का आखिरी मैच ब्रिसबेन में 25 नवंबर को होगा.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः वी कुमार