1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

नैनो से सस्ती कार बनाएगा चीन

टाटा की नैनो अब दुनिया की सबसे सस्ती कार नहीं रह जाएगी. चीन की जीली कंपनी इससे भी सस्ती कार बनाने की तैयारी कर रही है, जो दो साल में बाजारों में आ जाएगी.

default

जीली बनाएगी सस्ती कार

दुनिया की सबसे सस्ती कार टाटा की नैनो अभी बाजार में ठीक ढंग से आ भी नहीं पाई कि चीन ने इससे सस्ती कार बनाने का दावा कर दिया, जो 2012 तक सड़कों पर दौड़ने लगेगी. जीली की छोटी कार की कीमत 2250 अमेरिकी डॉलर यानी लगभग 1,04,000 रुपये होगी, जो नैनो के 2700 डॉलर (1,25,000 रुपये) से शुरू होने वाली कार से कहीं सस्ती है.

Indien Flash-Galerie Automobilindustrie Auto Tata in Bombay

चीन की जीली कंपनी का इरादा भारत की नैनो कार को पछाड़ने का है.

भारत में टाटा की नैनो कार के निर्माण में कई तरह की परेशानियां आ रही हैं, जिसमें इसके कारखाने की जगह बदलना भी शामिल है. इस वजह से कार तय वक्त पर सड़कों पर नहीं उतर पाई.

बीजिंग में हाल ही में एक कार मेले में जीली ने अपनी योजना को सार्वजनिक किया. जीली ने हाल ही में स्वीडन की वॉल्वो कार कंपनी को खरीद लिया है. वॉल्वो पहले अमेरिकी कार कंपनी फोर्ड का हिस्सा थी. जीली का दावा है कि उसकी कार का स्तर भारतीय कार नैनो से कहीं बेहतर होगा. चार सीटों वाली इस कार में एक लीटर का इंजन होगा, जो 70 हॉर्स पावर को होगा. इसमें पांच गीयर होंगे.

Geely Panda Modell

जीली की योजना बिजली से चलने वाली कार को भी बाजार में लाने की है, लेकिन यह काम 2015 से पहले होता नहीं दिखता.

रिपोर्टः डीपीए/ए जमाल

संपादनः महेश झा

संबंधित सामग्री