1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नेपाल भूकंप में मरने वालों की संख्या बढ़ी

हिमालय में आए भयानक भूकंप के दो दिन बाद नेपाल ने कहा है कि कम से कम 3700 लोग मारे गए हैं. भारत में 62 लोगों की मौत हुई है. संयुक्त राष्ट्र ने मानवीय विपदा की चेतावनी दी और अंतरराष्ट्रीय समुदाय से चंदा देने की अपील की है.

शनिवार के बड़े भूकंप के बाद नए झटकों के डर से दसियों हजार लोगों ने रात खुले में गुजारी. शनिवार को आए भूकंप की तीव्रता 7.8 थी जबकि रविवार को आए झटकों में दो की तीव्रता 6.7 और 5.3 रही. मौसमविज्ञानियों के अनुसार धरती का थर्राना जारी है, मुख्य भूकंप के बाद से 83 नए झटके आए हैं. प्रभावित इलाकों में बचावकर्मियों और राहत के पहुंचने में मुश्किल हो रही है. रविवार रात जोरदार बारिश हुई. भूकंप प्रभावित लोगों को भारी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है.

भारत और जर्मनी सहित बहुत से देशों ने नेपाल की मदद के लिए राहतकर्मियों को वहां भेजा है. नेपाल की सरकार का कहना है कि 6000 से ज्यादा लोग घायल हैं. जीवित बचे लोगों का कहना है कि भूकंप से सड़कों को भारी नुकसान पहुंचा है और रास्ते इस्तेमाल के लायक नहीं रह गए हैं. नेपाल ने अपने 90 फीसदी सैनिकों को बचाव के काम में लगा दिया है.

पिछले 80 साल में आए सबसे भयानक भूकंप का केंद्र नेपाल की राजधानी काठमांडू से 80 किलोमीटर दूर था. राजधानी में भारी नुकसान हुआ है और ढांचागत संरचना के अलावा बहुत से पुराने मकान और विश्व धरोहर नष्ट हो गए हैं. लेकिन देश भर में नुकसान के पूरे आयाम का आकलन अभी तक नहीं हुआ है. भूकंप प्रभावित क्षेत्र के व्यापक हिस्से में बिजली नहीं है, पानी की सप्लाई भी रुकी हुई है. इस इलाके में 66 लाख लोग रहते हैं.

भारत ने भेजे 16 हेलीकॉप्टर

जर्मनी से सोमवार को एक राहत विमान 60 टन मदद सामग्री लेकर काठमांडू जा रहा है. रविवार को ही ईसार जर्मनी ने 52 राहतकर्मियों को नेपाल के लिए रवाना किया है. उनके साथ मलबे के नीचे लोगों को खोजने वाले कुत्ते और चिकित्साकर्मी भी हैं. राहत में सबसे ज्यादा मदद भारत कर रहा है, उसने 16 हेलीकॉप्टर भी भेजे हैं. बहुत से देशों ने भूकंप पीड़ितों की मदद के लिए चंदा अभियान शुरू किया है और सहायता सामग्री नेपाल भेजी है.

दुनिया भर में बहुत से प्रमुख लोगों ने इंटरनेट और सोशल मीडिया में चंदा अभियान शुरू किया है. गायिका केटी पैरी ने ट्वीट किया, "मृतकों की बढ़ती तादाद के साथ मेरा दिल तार तार हो रहा है. कृपया प्रभावित बच्चों और परिवारों की मदद में यूनीसेफ का समर्थन कीजिए." अभिनेत्री अलीसा मिलानो ने लिखा है, "मेरा दिल नेपाल में है." टेनिस स्टार रफाएल नाडाल, गायिका शकीरा और किम कार्डेशियन ने भी सहानुभूति व्यक्त की है और चंदा देने की अपील की है.

एमजे/आईबी (डीपीए)

संबंधित सामग्री