1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

मनोरंजन

नेता से अभिनेताः अमर सिंह

समाजवादी पार्टी के पूर्व महासचिव अमर सिंह अब मलयालम फिल्मों में दिखाई देंगे. बॉंबे मित्तई नाम की फ़िल्म में डिंपल कपाडिया के साथ अमर सिंह एक हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीतकार का किरदार निभाएंगे.

default

फिल्म की शूटिंग शुरू हो गई है. पत्रकारों से बात करते हुए अमर सिंह ने कहा कि वे 'कल्पना की दुनिया' में नहीं रह रहे और अपनी तुलना शाह रुख ख़ान और अमिताभ बच्चन जैसे सितारों से कभी नहीं करेंगे. उन्होंने कहा, "मैं अपनी सीमाओं को जानता हूं. मैं कल्पना की दुनिया में नहीं रहना चाहता. सब लोगों की अपनी ख़ासियत होती है. बाकी लोग अमर सिंह नहीं बन सकते."

फिल्म में डिंपल कपाड़िया उनकी पत्नी बनी हैं. सिंह ने कहा कि वे इस बात से काफी खुश हैं और अतीत में उन्होंने डिंपल की सारी फिल्में देखी हैं. उन्होंने कहा कि लॉ डिग्री के लिए क्लास जाने के बजाय वे डिंपल के फिल्म देखना पसंद करते थे.

निर्देशक उम्मेर कारिक्काड की फिल्म बॉंबे मित्तई एक कॉमेडी फिल्म है जिसमें अंधविश्वासी युवाओं का मज़ाक उड़ाया गया है. डिंपल कपाड़िया और अमर सिंह के अलावा फिल्म में श्रीलंका के तमिल नेता वरदराजन पेरुमाल की बेटी नीलांबरी पेरुमाल भी शामिल हैं. जगती श्रीकुमार, विनू मोहन और हरिश्री अशोकन भी फिल्म में अलग अलग किरदारों में दिखाई देंगे.

Jayaprada

देवानंद की फिल्म चार्जशीट में भी अमर सिंह ने काम किया है. फिल्म अभी रिलीज़ नहीं हुई है.

अमिताभ बच्चन को गुजरात का ब्रैंड एंबैसडर बनाने वाले विवाद के सिलसिले में सिंह ने कहा कि गुजरात का ब्रैंड एंबैसडर बनने का मतलब नहीं कि बच्चन नरेंद्र मोदी की नीतियों का समर्थन करते हैं. बच्चन के इस फैसले के बाद केरल ने उन्हें अपने राज्य का ब्रैंड़ एंबैसडर बनाने से इनकार कर दिया था.

उधर समाजवादी पार्टी से निकाली गईं जयाप्रदा भी अपने फिल्मी करियर पर ध्यान देती हुई नज़र आ रही हैं. फिल्म शेष संगत के ज़रिए जया माओवादियों के अभियान पर रोशनी डालना चाहती हैं.

रिपोर्टः एजेंसियां/एम गोपालकृष्णन

संपादनः आभा मोंढे

संबंधित सामग्री