1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नेताओं की सेल्फी वाले प्रधानमंत्री

सेल्फी का शौक आम लोगों से भले ही शुरू हुआ हो, इस बीच वह दुनिया के ताकतवर राजनेताओं का भी पसंदीदा शगल है. मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रजाक दूसरे राजनेताओं की तस्वीरें ट्वीट करने में सबसे आगे हैं.

खबर भले ही दक्षिण अफ्रीकी नेता नेल्सन मंडेला के शोक समारोह में डेनमार्क की प्रधानमंत्री हेले थॉर्निंग-श्मिट की सेल्फी बनी हो, इस बीच प्रमुख राजनेता जब मलेशिया के प्रधानमंत्री से मिलते हैं तो उससे पहले अब अपने बाल संवार लेते हैं. वजह यह है कि नजीब रजाक उनके साथ सेल्फी खींचना नहीं भूलते. उन्हें सेल्फी का राजा कहा जाने लगा है. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और फ्रांसीसी राष्ट्रपति फ्रांसोआ ओलांद को यह स्वाद मिल चुका है. देश की राजनीति में फेसबुक और ट्विटर का विरोध करने वाले तुर्की के राष्ट्रपति एरदोवान भी उनसे बचे नहीं हैं. ये तस्वीरें अब सार्वजनिक बहस का हिस्सा भी बनती जा रही हैं.

पिछले दिनों उन्होंने फ्रांसीसी राष्ट्रपति ओलांद को एशिया यूरोप शिखर भेंट के दौरान अपने सेलफोन के आगे खींच लिया. ओलांद इस समय अपने देश में सबसे अलोकप्रिय राष्ट्रपतियों में हैं. यह तस्वीर फौरन राष्ट्रपति की आलोचना और मजाक का केंद्र बन गई.

राष्ट्रपति ओबामा के साथ तो रजाक ने दो दो बार सेल्फी खींची.

और अगली बार राष्ट्रपति ओबामा की शाही गाड़ी में. आप इस गाड़ी की तस्वीर भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका यात्रा के दौरान देख चुके होंगे, जब राष्ट्रपति मोदी को अपनी गाड़ी में मार्टिन लुथर किंग स्मारक साथ ले गए थे. इस गाड़ी को बीस्ट कहते हैं. मलेशिया के प्रधानमंत्री ने अपने ट्वीट में लिखा कि अगर आपको आश्चर्य हो कि बीस्ट कैसा है तो यह तस्वीर.

इस हफ्ते उन्होंने इंडोनेशिया के नए राष्ट्रपति जोको विदोदो को पकड़ा. जैसे ही उनका शपथग्रहण हुआ, प्रधानमंत्री उन्हें अपने सेलफोन के सामने ले आए.

पिछले हफ्ते उन्होंने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दीपों के त्यौहार दीपावली और प्रांतीय चुनाव जीतने की बधाई भी दी.

संबंधित सामग्री