1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

नीतीश-जेटली मिले, तनाव कम करने की कोशिश

हाल के दिनों में रिश्तों में आई तल्खी को दूर करने के इरादे से बीजेपी नेता अरुण जेटली और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुलाकात की है. प्रचार से नाराज नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी को लौटा दी थी बाढ़ सहायता राशि.

default

पटना में भारतीय जनता पार्टी की राज्य यूनिट के प्रमुख सीपी ठाकुर के निवास पर हुई इस बैठक में अरुण जेटली के अलावा बीजेपी के अन्य नेता भी शामिल हुए जिनमें अनंत कुमार, धर्मेंद्र प्रधान, सुशील कुमार मोदी शामिल हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ बीजेपी नेताओं की यह बैठक करीब दो घंटे चली.

Der Ministerpräsident von Bihar, Nitish Kumar, kümmert sich um den Landeschef der Partei Janata Dal United, Sharad Yadav

बीजेपी सूत्र ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया कि बिहार सरकार में शामिल दोनों सहयोगी दलों ने विज्ञापन विवाद पर रिश्तों में छाई धुंध को साफ करने की कोशिश की है. "सौहार्दपूर्ण माहौल में हुई बातचीत का उद्देश्य आपसी मतभेदों को दूर करना रहा. पिछले दो महीनों में इस वजह से हमारे गठबंधन को ठेस लग रही थी." बीजेपी के मुताबिक इस साल होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर यह बैठक बेहद अहम है. दोनों पार्टियां राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर अपना गठबंधन बनाए रखने पर सहमत हो गई हैं. बैठक में चुनाव की रणनीति और सीटों के बंटवारे का फार्मूला तय करने पर विचार हुआ.

अरुण जेटली ने बैठक में उठाए गए मुद्दों के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं दी. बैठक के बाद नीतीश कुमार ने भी मीडियाकर्मियों से बात नहीं की और सीधे एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए. पिछले महीने बिहार के मुख्यमंत्री और जेडीयू नेता नीतीश कुमार गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी पर भड़क गए थे.

नीतीश कुमार को एक विज्ञापन में नरेंद्र मोदी के साथ दिखा गया था जबकि एक अन्य विज्ञापन में 2008 में कोसी नदी में आई बाढ़ पर गुजरात से मिली सहायता राशि का प्रचार किया गया. नीतीश कुमार को यह दोनों बातें पसंद नहीं आई. मोदी के साथ दिखाए जाने से भड़के नीतीश कुमार ने बीजेपी नेताओं के साथ डिनर रद्द कर दिया और गुजरात को बाढ़ सहायता राशि लौटा दी.

नीतीश कुमार ने कहा था कि सहायता का प्रचार करना असभ्यता दर्शाता है. नाराज उपमुख्यमंत्री और बीजेपी नेता सुशील कुमार मोदी ने नीतीश के साथ एक बैठक में होने से मना कर दिया था. इसके चलते बीजेपी और जेडीयू में तनाव पैदा हो गया था और अब उसी को शांत करने की कोशिश हो रही है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह