1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

नितिन गर्ग की हत्या के मामले में आरोप तय

ऑस्ट्रेलियाई की एक अदालत ने भारतीय छात्र नितिन गर्ग की हत्या के मामले में एक किशोर पर आरोप तय किया है. उधर एक अन्य ऑस्ट्रेलियाई युवक ने एक भारतीय पर हमले की बात मानी, लेकिन कहा हमला नस्ली नहीं था.

default

नितिन गर्ग की हत्या के सिलसिले में मेलबर्न की बाल अदालत में पेश 16 वर्षीय किशोर का नाम सार्वजनिक नहीं किया गया है. उस पर हत्या का एक आरोप तय किया गया है. इस लड़के के वकील का कहना है कि इस आरोप को अगले साल होने वाली कमेटी सुनवाई में चुनौती दी जाएगी.

21 वर्षीय नितिन जब 2 जनवरी को रात साढ़े नौ बजे एक रेस्त्रां में काम करने के लिए जा रहे थे तो मेलबर्न के क्रकशैंट पार्क में उन्हें चाकू घोंपा गया. हत्यारे ने नितिन का कोई सामान नहीं चुराया. जहां नितिन की हत्या की गई, उनका सारा सामान वहीं पार्क में बिखरा पड़ा था. अभियोजन पक्ष का कहना है कि नितिन के साथ काम करने वालों ने पुलिस को पिछले साल की एक घटना के बारे में बताया जब उन्होंने एक अजनबी को नितिन को धमकी देते देखा था. वकील के मुताबिक यह अजनबी अप्रैल और मई में नितिन को खोजते हुए रेस्त्रां में भी आया था.

बचाव पक्ष के वकील का कहना है कि 2009 में किए गए पहले हमले में भी चाकू का इस्तेमाल किया गया. कुछ दिनों बाद अजनबी का फिर से रेस्त्रां में आना केस में एक अहम बात है. मजिस्ट्रेट ने मामले की सुनवाई अगले हफ्ते तक टाल दी है.

उधर एक अन्य भारतीय पर हमला करने वाले 20 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई युवक ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. उसने जानबूझ कर शीरीरिक नुकसान पहुंचाने और लूटपाट करने की बात मान ली है लेकिन इस हमले के पीछे नस्ली भावना से इनकार किया है. कंट्री कोर्ट में पेश होने वाले शेन कैसे कमेनसॉली ने पिछले साल अक्टूबर में लकी सिंह पर हमला किया जिसमें लकी को नाक और गोल पर गंभीर चोटें आईं.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM