1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

निठारी कांडः चौथे मामले में भी कोली दोषी करार

सीबीआई की विशेष अदालत ने निठारी कांड में सुरिंदर कोली को 12 साल की बच्ची दीपाली के बलात्कार और हत्या का दोषी करार दिया है. दिल्ली से सटे नोएडा के निठारी इलाके की नालियों में दीपाली के शरीर के अंग मिले थे.

default

पंधेर और कोली निठारी कांड के आरोपी

बुधवार को विशेष सीबीआई जज एके सिंह ने 38 वर्षीय कोली को दोषी करार देने का फैसला सुनाया. इस मामले में सजा गुरुवार को सुनाई जाएगी. 2006 में निठारी में बच्चों और युवतियों से बलात्कार और हत्या के सिलसिले में सीबीआई की तरफ से दर्ज किए गए कुल 16 मामलों में से दीपाली का चौथा मामला है. इन सभी बच्चों के कंकाल निठारी में मिले थे.

शुरू में इस मोनिंदर पंधेर और उसके नौकर सुरिंदर कोली को इस मामले में आरोपी बनाया गया, लेकिन सीबीआई की चार्जशीट में कोली को ही मुख्य आरोपी बताया गया. सीबीआई ने कहा कि पंधेर के खिलाफ उसे सबूत नहीं मिले हैं.

कोली को इसी साल मई में विशेष अदालत ने किशोरी रचना के बलात्कार और हत्या के मामले में मौत की सजा सुनाई. सीबीआई की अदालत ने उसे 14 वर्षीय रिम्पा हलधर और 8 वर्षीय आरती के बलात्कार और हत्या का भी दोषी ठहराया.

जून 2006 से लापता होने वाली दीपाली को उसकी मां ने अपनी बेटी को उसकी चप्पलों के जरिए पहचाना. बाद में उसके कंकाल का डीएनए टेस्ट भी कराया गया. दिसंबर 2006 में निठारी इलाके से बच्चों के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई गई.

2006 के निठारी मामले में बच्चों के हत्या और बलात्कार के कुल 19 मामले दर्ज किए गए जबकि सीबीआई ने 16 मामलों में चार्जशीट दाखिल की. तीन मामलों को सबूत की कमी के चलते बंद कर दिया गया.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः आभा एम

DW.COM