1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नाइजीरिया में अगवा 219 लड़कियों में से एक मिली

दो साल पहले बोको हराम द्वारा अगवा की गई 219 लड़कियों में से एक मिल गई है. लड़की प्रेग्नेंट है. बाकी अब भी लापता हैं.

दो साल पहले नाइजीरियाई आतंकी संगठन बोको हराम ने जिन 219 लड़कियों को अगवा कर लिया था, उनमें से एक लड़की मिल गई है. चिबोक कस्बे के बोर्डिंग स्कूल से अगवा की गई इस लड़की के मिलने की जानकारी उसके अंकल ने दी है. बुधवार को लड़की के अंकल ने बताया कि वह प्रेग्नेंट है और सदमे में है.

अमीना अली नकेई उन 219 लड़कियों में से पहली है जो अपहर्ताओं की कैद से छूट पाई है. दो साल पहले उसे और उसकी साथियों को बोको हराम के आंतकी स्कूल से उठा ले गए थे. तब इस घटना की काफी चर्चा हुई थी.

स्थानीय नेता पोगू बितरस का कहना है कि सेना ने मंगलवार रात को उत्तरपूर्व के अंदरूनी इलाकों में सांबिसा जंगल में बोको हराम के खिलाफ अभियान चलाया था, हो सकता है कि कुछ और लड़कियों को भी रिहा कराया गया हो. बितरस ने कहा कि वह अधिकारियों के साथ मिलकर लड़कियों की पहचान सुनिश्चित करने में लगे हैं.

#BringBackOurGirls

बोको हराम एक इस्लामिक आतंकवादी संगठन है जो नाइजीरिया में सक्रिय है. 14 अप्रैल 2014 को उसने चिबोक के राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल पर हमला बोल दिया था. आतंकवादी एग्जाम की तैयारी करतीं 276 लड़कियों को हॉस्टल से उठा ले गए थे. हालांकि उनमें से काफी तो उसी दौरान भाग आई थीं लेकिन 219 लड़कियों का कुछ पता नहीं चल पाया था.

इन लड़कियों के अपहरण का मुद्दा पिछले साल हुए राष्ट्रपति चुनाव में बड़ा मुद्दा बना था. जानकार मानते हैं कि इन लड़कियों को रिहा न करा पाने की सरकार की विफलता ही राष्ट्रपति गुडलक जोनाथन की हार का कारण बनी थी.

याकूबू नकेई ने बताया कि उनकी भतीजी अमीना जंगल में भटकती मिली. जब उसे अगवा किया गया था तो वह 17 साल की थी. 19 साल की अमीना को जब मंगलवार को घर लाया गया तो उसकी मां ने उसकी पहचान की. इन दो सालों में उसके पिता की मौत हो चुकी है. अब सैनिक उसे अपने साथ ले गए हैं. संभावना जताई जा रही है कि उसे दांबोआ शहर के मिलिट्री कैंप में रखा गया है.

बोको हराम लगभग 7 साल से सक्रिय है. इस दौरान हजारों लड़के-लड़कियों को अगवा किया जा चुका है. बोको हराम देश में अब तक 20 हजार लोगों की जान ले चुका है. इस साल नाइजीरियाई सेना ने बड़ा अभियान चलाकर हजारों लोगों को बोको हराम की कैद से छुड़ाया है.

वीके/आईबी (एपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री