1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

जर्मन चुनाव

नया परमाणु संयंत्र और ईंधन नहीं बनाया-गिलानी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने उन रिपोर्टों का खंडन किया है जिसके हिसाब से पाकिस्तान परमाणु हथियारों की दूसरी खेप के लिए नया परमाणु संयंत्र से परमाणु ईंधन बना रहा है.

default

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार अमेरिकी खुफ़िया विभाग का मानना है कि पाकिस्तान ने नए परमाणु हथियारों का ईंधन बनाने के लिए एक नए परमाणु संयंत्र को शुरू किया है और इसके अलावा दो और परमाणु संयंत्र बनाने की उसकी योजना है. अख़बार में प्रकाशित किया गया कि पाकिस्तान दुनिया भर में नए परमाणु ईंधन के उत्पादन पर समझौता रोक रहा है.

इस ख़बर का खंडन पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने सीएनएन से बातचीत के दौरान किया और कहा कि ये कतई सही नहीं है कि पाकिस्तान परमाणु हथियारों के मामले में भारत के साथ होड़ में है.

पाकिस्तान ने अमेरिकी असैनिक परमाणु तकनीक और नया परमाणु ऊर्जा संयंत्र पाकिस्तान में लाने के लिए एक और नई कोशिश की है. पाकिस्तान का कहना है कि परमाणु सुविधाओं की सुरक्षा के लिए उसके पास मज़बूत सुरक्षा इंतज़ाम हैं. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ़ रज़ा गिलानी ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ रात्रि भोज के दौरान इस मुद्दे को उठाया.

बताया जाता है कि बैठक के दौरान भारत की विदेश सचिव निरुपमा राव और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिव शंकर मेनन पाकिस्तान में परमाणु हथियारों की सुरक्षा के बारे में चिंता ज़ाहिर करेंगे. वहीं प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह आतंकियों के हाथ परमाणु हथियार पड़ने की आशंका पर अपने विचार रखेंगे.

बैठक से पहले प्रधानमंत्री ने कहा,"हम पहले देशों में थे जिन्होंने परमाणु हथियारों से मुक्त दुनिया के लिए आवाज़ उठाई थी. मुझे इस बात से उत्साह मिलता है कि इस विचार को आज इतना महत्व दिया जा रहा है."

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह प्रस्ताव रखना चाहते हैं कि भारत में एक अंतरराष्ट्रीय परमाणु सुरक्षा केंद्र बनाया जाए.

रिपोर्टः एजेंसियां/ आभा मोंढे