1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

नकली बंदूक दिखाने पर पुलिस ने मारी गोली

अमेरिका के क्लीवलैंड में पुलिस की गोली से 12 साल के एफ्रो अमेरिकी बच्चे की मौत हो गई है. पुलिस ने तमीर राइस को गोली मारी क्योंकि उसने बंदूक निकालने की कोशिश की. बाद में पता चला कि बंदूक नकली थी.

पुलिस ने बताया कि वह आपात फोन पर सूचना मिलने के बाद मौके पर निकली. उन्हें सूचना दी गई थी कि पार्क में कोई बंदूक ले कर घूम रहा है और लोगों पर बंदूक तान रहा है. 911 पर फोन करने वाले व्यक्ति ने बताया, "वह झूले पर बैठा है और बार बार पैंट से बंदूक निकाल रहा है और लोगों की ओर बंदूक तान रहा है. वह शायद एक नाबालिग है."

पुलिस ने बताया कि बंदूक नकली थी जो सेमी ऑटोमैटिक बंदूक जैसी दिख रही थी. रविवार सुबह शहर के मेट्रोहेल्थ मेडिकल सेंटर में बच्चे की गोली के घाव से मौत हो गई. तमीर राइस के पारिवारिक वकील ने कहा, "हम अपनी जांच खुद करेंगे. हम गवाहों से बात करेंगे और 911 पर आए फोन के सभी टेप लेंगे ताकि पता चले कि पुलिस को क्या बताया गया था और उन्हें पहले से क्या मालूम था."

ओहायो में यह घटना ऐसे समय पर हुई है जब पूरे देश में जातीय तनाव काफी ज्यादा है और अगस्त में पुलिस की गोली से मारे गए अश्वेत अमेरिकी नागरिक के मामले में जूरी फैसला सुनाने वाली है. एएफपी समाचार एजेंसी के मुताबिक इस लड़के को पुलिस ने दो गोलियां मारी जिसमें से एक उसके पेट में लगी.

क्लीवलैंड की पुलिस ने बताया कि दोनों अधिकारियों को फिलहाल छुट्टी पर भेज दिया गया है. पुलिस ने जारी बयान में कहा, "मौके पर पहुंचने के बाद अधिकारियों ने संदिग्ध व्यक्ति को ढूंढा और उससे हाथ ऊपर करने को कहा. संदिग्ध ने ऑफिसरों के आदेश का पालन नहीं किया और बंदूक निकालने के लिए पैंट की ओर हाथ बढ़ाया. पुलिस ने गोलियां चलाई और संदिग्ध के धड़ में गोली लगी. आगे की सूचना से पता चला कि 12 साल के संदिग्ध के हाथ में जो पिस्तौल थी वह नकली थी जो सेमी ऑटोमैटिक पिस्तौल जैसी दिखाई दे रही थी जिसका नारंगी सेफ्टी इंडीकेटर हटा लिया गया था."

रिपोर्टों के मुताबिक खेल के मैदान से मिले फुटेज को जांच के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है. शनिवार को हुई इस घटना और अगस्त की घटना को देखते हुए अमेरिकी सांसद एलिसिया रीस ने घोषणा की है कि वह प्रस्ताव रखेंगी कि सभी टॉय गन चटक रंग की हों या फिर उनमें कम से कम एक चमकदार रंग की स्ट्रिप हो. उन्होंने कहा, "शनिवार की घटना को देखते हुए साफ है कि हमें इस कानून की ओहायो में जरूरत है.

अगस्त में फर्ग्यूसन शहर में एक 18 साल के अमेरिकी अश्वेत युवक माइकल ब्राउन की पुलिस की गोली लगने से मौत हो गई थी जिसके बाद वहां काफी विरोध प्रदर्शन हुए थे.

DW.COM

संबंधित सामग्री