1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

धोनी बोले, बल्लेबाजों की बल्ले बल्ले

ऑस्ट्रेलिया पर भारत की धमाकेदार जीत के बाद भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी गदगद नजर आए. उन्होंने अपने बल्लेबाजों की जमकर तारीफ की. विराट कोहली और युवराज सिंह को उन्होंने भारत का खेवनहार बताया.

default

भारतीय कप्तान एमएस धोनी

भारत ने दूसरे वनडे मैच में ऑस्ट्रेलिया को पांच विकेट से हरा दिया. इस जीत में कोहली, युवराज और रैना ने अहम भूमिका निभाई. भारत की खराब शुरुआत के बाद इन्हीं खिलाड़ियों ने मैच टीम की वापसी कराई. महेंद्र सिंह धोनी ने इनकी तारीफ करते हुए कहा, "युवराज सिंह और विराट कोहली ने मैच में हमारी वापसी कराई और रैना ने कोहली का आखिर तक बढ़िया साथ दिया. हम देखना चाहते थे कि मैदान में कितनी ओस होगी. मुझे लगा था कि स्पिनर्स को अच्छा टर्न मिलेगा लेकिन विकेट काफी फ्लैट साबित हुआ."

मैच के बाद धोनी ने कहा कि कैमरन वाइट के शुरुआती हमले ने काफी नुकसान पहुंचाया. उन्होंने कहा, "जब सुरेश रैना क्रीज पर थे और एक पावर प्ले बाकी था तो मैं जानता था कि हमारे पास जीत का मौका है. और युवराज के लिए तो रन बनाना जरूरी था ही."

कोहली ने 118 रन की पारी खेली जबकि रैना ने 71 रन बनाए. युवराज सिंह ने 58 रन बनाए.

उधर ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क ने इस हार के लिए ओस को जिम्मेदार ठहराया. उन्होंने कहा कि ओस की वजह से विकेट धीमा हो गया. मैच के बाद क्लार्क ने कहा, "मुझे लगा कि 289 काफी अच्छा स्कोर था. लेकिन भारतीय बल्लेबाजों ने शुरुआती ओवरों में आसानी से रन बनाए और इसी ने अंतर पैदा कर दिया. जब ओस गिरने लगी तो रन बनाना आसान हो गया."

क्लार्क ने खुद 111 रन की पारी खेली. लेकिन उनका कहना था कि शुरू में रन बनाना काफी मुश्किल था जबकि मैच के दूसरे हिस्से में रन आसानी से बने.

ऑस्ट्रेलिया तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से पिछड़ गया है जबकि अब एक ही मैच होना बाकी है.

रिपोर्टः एजेंसियां/वी कुमार

संपादनः ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links