1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

धोनी ने जीत का श्रेय स्पिनरों को दिया

एशिया कप में अपने पहले मैच में बांग्लादेश पर छह विकेट से जीत दर्ज करने के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा है कि स्पिनरों ने शानदार प्रदर्शन से जीत की इबारत लिख दी. धोनी ने गौतम गंभीर की भी जमकर तारीफ की.

default

दाम्बुला में टॉस जीतकर बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया लेकिन पूरी टीम सिर्फ 167 रन पर ही सिमट गई. एक समय बांग्लादेश का स्कोर 4 विकेट के नुकसान पर 150 रन था लेकिन फिर विकेट धड़ाधड़ गिरे और पूरी टीम 167 पर ढेर हो गई.

भारत की ओर से वीरेंद्र सहवाग ने सबसे ज्यादा चार विकेट झटके जबकि हरभजन सिंह और रवीन्द्र जडेजा ने भी बांग्लादेश के बल्लेबाजों को बांध कर रखा और एक एक विकेट लिया.

Virender Sehwag

दाम्बुला की पिच को कम उछाल वाली और धीमी मानी जाती है. उस पिच पर स्पिनरों के दबदबे से धोनी भी अभिभूत दिखे और उन्होंने कहा, "स्पिनरों ने हमें जीता दिया. फ्लड लाइट्स में यहां खेलना 200 फीसदी ज्यादा मुश्किल होता है. गौतम गंभीर ने हमें बढ़िया शुरुआत दी. जब वह अपने स्कोर में कुछ रन जो़ड़ लेते हैं तो फिर बड़ी पारी ही खेलते हैं. बोनस प्वाइंट पाना हमेशा अच्छा लगता है."

82 रन की शानदार पारी के लिए गौतम गंभीर को मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया. गंभीर ने 101 गेंद में 82 रन की पारी खेली और भारत को 168 रन का लक्ष्य हासिल करने में मदद की. लेकिन असली जादू तो पार्ट टाइम स्पिनर वीरेंद्र सहवाग के करिश्माई स्पैल में नजर आया जब उन्होंने चार विकेट झटक कर बांग्लादेश का 167 रनों पर ही पुलिंदा बांध दिया.

ट्वेंटी20 वर्ल्ड कप में खराब फॉर्म से जूझने वाले गंभीर अपनी लय पाकर खुश दिखे और उन्होंने कहा कि वर्ल्ड कप में अच्छा नहीं खेल पाने से उनकी काफी आलोचना हुई. फॉर्म में वापस लौटने के लिए यह पिच बिलकुल सही साबित हुई.

टी20 वर्ल्ड कप में अपने लचर प्रदर्शन से आलोचना का शिकार हुई टीम की जीत से धोनी संतुष्ट हैं. "अगर टीम के वरिष्ठ खिलाड़ी अच्छा खेलते हैं, अच्छी गेंदबाजी करते हैं तो खुशी होती है. जैसे जैसे मैच आगे बढ़ रहा था, परिस्थितियां मुश्किल हो रही थीं."

बांग्लादेश के कप्तान शकीब अल हसन ने माना है कि पारी के आखिर में जल्द विकेट खोना उनकी हार की कारण बना. "एक के बाद एक विकेट खोना मैच का टर्निंग प्वाइंट था. इस पिच पर बल्लेबाजी करना इतना मुश्किल नहीं है. एक लंबे समय बाद हमारे तेज गेंदबाजों ने अच्छा खेल दिखाया. यह उनके लिए अच्छा है और आने वाले मैचों के लिए हम तैयार हैं."

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एम गोपालकृष्णन

संबंधित सामग्री