1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

धोनी ने कंपनी को भेजा कानूनी नोटिस

भारतीय क्रिकेट कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने चेन्नई की एक कंपनी को विज्ञापन के लिए फीस नहीं चुकाने की वजह से कानूनी नोटिस भेजा है. धोनी ने सुजाता बायोटेक नाम की कंपनी के लिए विज्ञापन किया है.

default

कप्तान ने भेजा नोटिस

टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के बिजनेस मैनेजर प्रतीक सेन ने बताया कि हेल्थकेयर कंपनी सुजाता बायोटेक ने 2008 के बाद से कोई फीस नहीं दी है. इसके बाद उन्होंने कानूनी रास्ता अपनाया है.

सेन ने बताया, "शुरुआत में टोकन राशि देने के बाद कंपनी ने धोनी को बची हुई फीस नहीं दी है. इसलिए हमने उन्हें कानूनी नोटिस भेजा है."

माइंडस्पोर्स्टस मैस्ट्रोज के निदेशक सेन का कहना है कि फीस नहीं देने के बावजूद कंपनी धोनी के नाम का इस्तेमाल कर रही है और अपने उत्पादों पर उनकी तस्वीरें छाप रही है. उन्होंने कहा, "जब उन्होंने फीस ही नहीं दी है, तो वे अपना उत्पाद बेचने के लिए धोनी के नाम का इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं."

धोनी ने इस कंपनी के साथ खांसी की दवा 'निवारण 90' और 'मेमोरी वीटा' के विज्ञापन के लिए समझौता किया था. बताया जाता है कि कंपनी ने धोनी को बकाये के साढ़े पांच करोड़ रुपये नहीं दिए हैं.

कंपनी ने इस सिलसिले में कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है. धोनी लगभग 22 कंपनियों के लिए इश्तेहार करते हैं. समझा जाता है कि सिर्फ विज्ञापन से ही वह हर साल 80 करोड़ रुपये कमा लेते हैं.

रिपोर्टः पीटीआई/ए जमाल

संपादनः महेश झा

संबंधित सामग्री