1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

धमाके से दहला बोस्टन

दो साल के एक बच्चे के सिर में चोट, 9 साल की लड़की के पैर जख्मी, यहीं 15 साल से कम उम्र के 6 और बच्चों का भी इलाज हो रहा है. यह सभी बोस्टन बम धमाके में घायल हुए हैं. राष्ट्रपति कह रहे हैं कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.

कई धावक दौड़ की आखिरी सीमा पर पहुंचने वाले थे कि तभी खुशी से शोर मचाते लोगों की भीड़ के पीछे से आग का गोला और धुएं का गुबार निकला. वीडियो में दौड़ में भाग लेने वाले लोगों के देशों के झंडों की कतारों के पीछे से उठता धुआं दिखा है. सोमवार दोपहर बाद बोस्टन मैराथन के आखिरी छोर पर जब पहला धमाका हुआ तब एक तिहाई धावक दौड़ पूरी कर चुके थे. इसके थोड़ी ही देर बाद दूसरा धमाका हुआ यहां से करीब 90 मीटर की दूरी पर. इन धमाकों में अब तक 3 लोगों को जान गई है और 100 से ज्यादा लोग घायल हैं.

मैसाचुसेट्स के एक मछुआरे जो एंडरसन ने बताया, "मैंने ऐसे लोगों को देखा जिनके शायद पैर हमले में उड़ गए थे. उनके पैरों पर बहुत सारा खून था और उन लोगों को व्हील चेयर पर ले जाया जा रहा था." मैसाचुसेट्स के गवर्नर डेवल पैट्रिक का कहना है कि ज्यादातर लोग गंभीर रूप से घायल हैं. मैसाचुसेट्स जनरल हॉस्पीटल में 29 घायलों का इलाज हो रहा है. इन लोगों में कुछ के बदन पर कटने के तो कुछ पर छिलने के निशान हैं और कुछ बम में भरे धातु के टुकड़े लगने के कारण गंभीर रूप से घायल हैं. ट्रॉमा सेंटर के सर्जन के मुताबिक कई लोगों की जान बचाने के लिए उनके शरीर के अंगों को काटना भी पड़ा है. डॉक्टरों का यह भी कहना है कि कई लोगों की आज दोबारा सर्जरी करने की जरूरत पड़ेगी.

एक तरफ घायलों की जान बचाने के लिए डॉक्टरों और राहत कर्मचारियों की टीम लगी है तो दूसरी तरफ खुफिया एजेंसियां हमले के जिम्मेमदार संगठन या इंसानों की पहचान करने में जुटी हैं. अमेरिकी जमीन पर 11 सितंबर के बाद यह सबसे बड़ा हमला है. अमेरिकी खुफिया एजेंसी एफबीआई के नेतृत्व में तमाम सुरक्षा एजेंसियां जांच में जुट गई हैं. धमाके के लिए विस्फोटक के रूप में गन पाउडर से भरे दो उपकरणों का इस्तेमाल किया गया जिनमें बॉल बेयरिंग और धातु के छोटे छोटे टुकड़े भर कर ज्यादा से ज्यादा लोगों को निशाना बनाने की कोशिश की गई. अब तक इस मामले में किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है. राष्ट्रपति बराक ओबामा ने वादा किया है कि जिम्मेदार लोगों को जल्दी ही पकड़ लिया जाएगा और जो लोग इस हमले के पीछे हैं उन्हें इसकी कीमत चुकानी होगी. राष्ट्रपति ने घटना के लिए "आतंकवाद" शब्द का इस्तेमाल नहीं किया है.

अब तक हमले की जिम्मेदारी किसी संगठन या इंसान ने नहीं ली है. पाकिस्तानी तालिबान ने मंगलवार को इस हमले की जिम्मेदारी लेने से इनकार किया. तहरीक ए तालिबान पाकिस्तान के प्रवक्ता एहसानुल्लाह अहसान ने एएफपी को बताया, "हम अमेरिका पर हमला करने में यकीन रखते हैं लेकिन इस हमले में हम शामिल नहीं हैं. इस बम धमाके से हमारा कोई लेना देना नहीं, लेकिन हम उन्हें जब भी संभव होगा निशाना बनाते रहेंगे."

बोस्टन मैराथन 1897 से ही हर साल होता आ रहा है. इसमें शामिल होने हर साल 20 हजार से ज्यादा धावक आते हैं जिनकी दौड़ देखने के लिए पांच लाख से ज्यादा दर्शकों का जमावड़ा लगता है. बोस्टन के धमाकों ने सरकार और सुरक्षा एजेंसियों को सतर्क कर दिया है. अगले रविवार को लंदन मैराथन होना है और आयोजकों का कहना है कि यह तय कार्यक्रम के मुताबिक ही होगा.

एनआर/एमजे (एएफपी, रॉयटर्स)

DW.COM

संबंधित सामग्री