1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

द्रविड़ ने माना, जहीर खान की कमी खली

सेंचुरियन में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में भारत की हालत पतली है और वह हार की ओर बढ़ रहा है. बल्लेबाजों के बाद गेंदबाजों के प्रभावहीन साबित होने पर राहुल द्रविड़ ने कहा कि टीम को जहीर खान की कमी खल रही है.

default

भारतीय टीम दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ 136 रन पर ढेर हो गई जबकि विपक्षी टीम ने दो विकेट पर 366 रन ठोंक दिए हैं. जिस तरह से दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज खेल रहे हैं उससे भारत के गेंदबाज अनुभवहीन दिखाई पड़ रहे हैं. द्रविड़ ने भी मान लिया कि टेस्ट में भारतीय टीम के लिए वापसी अब मुश्किल है.

Zaheer Khan

चोटिल हैं जहीर खान

द्रविड़ ने कहा, "ईमानदारी से कहूं तो हम इस मैच में बुरी तरह पिछड़ चुके हैं. हमारे गेंदबाजों ने बढ़िया प्रदर्शन करने की कोशिश की लेकिन परिस्थितियां बदल चुकी हैं. विकेट अब अलग मिजाज से खेल रहा है और दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज बढ़िया बल्लेबाजी कर रहे हैं. लेकिन हम अच्छी गेंदबाजी कर सकते थे. हम अनुभव में मार खा रहे हैं. जहीर की कमी बेहद खल रही है. वह हमारी गेंदबाजी का मजबूत पक्ष है और अगर वह होते तो टीम के अन्य गेंदबाज बढ़िया प्रदर्शन कर पाते."

लेकिन द्रविड़ का यह भी कहना है कि मैच में अभी क्रिकेट बाकी है और भारत की हार को निश्चित नहीं मान लेना चाहिए. उन्होंने कहा, "अब इस टेस्ट और सीरीज में काफी क्रिकेट बाकी है. हमें अपनी क्षमता में विश्वास रखना है. हम बस आगे बढ़ते रहना है. हमें तीसरे दिन अच्छी गेंदबाजी करनी होगी और सबसे अहम बात है कि हम दूसरी पारी में अच्छी बल्लेबाजी करें. हम पूरी पारी के बारे में पहले से योजना नहीं बना सकते. हमें हर गेंद, हर घंटे के हिसाब से खेलना होगा. विकेट अब बेहतर हो रहा है. इसलिए दूसरी पारी में बल्लेबाजी करना मुश्किल साबित नहीं होना चाहिए."

एक सवाल के जवाब में द्रविड़ ने कहा कि भारत विदेशी दौरे में शुरुआत अच्छे प्रदर्शन के साथ नहीं करता और इस क्षेत्र में टीम को बेहतर होने की जरूरत है. द्रविड़ के मुताबिक टीम इसे बदलने की कोशिश कर रही है लेकिन अभी और सुधार की जरूरत है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: वी कुमार

DW.COM

WWW-Links