1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

द्रविड़ को भारतीय बल्लेबाज़ों पर भरोसा

क्रिकेट के मैदान में अपनी वापसी से पहले राहुल द्रविड़ ने कहा है कि उन्हें पूरा विश्वास है कि भारत के बल्लेबाज़ श्रीलंका के अपने दौरे में अजंता मेंडिस की गेंदों से निपटने में कामयाब रहेंगे.

default

मेंडिस से कोई डर नहीं.

सन 2008 में अपनी पहली टेस्ट श्रृंखला में स्पिन गेंदबाज़ मेंडिस ने भारत के बल्लेबाज़ों को बुरी तरह छकाया था. उन्हें तीन टेस्ट मैचों में 28 विकेट मिले थे और मेज़बान श्रीलंका की टीम को 2-1 से जीत मिली थी.

द्रविड़ का कहना है कि पिछले दो सालों के दौरान भारतीय खिलाड़ियों ने मेंडिस की गेंदों को पहचानने की कोशिश की है. वह अब भी एक अच्छे गेंदबाज़ हैं, लेकिन पिछले दौरे में वह हमारे लिए बिल्कुल नया था, और सीरिज़ जीत में उसकी एक अहम भूमिका थी. लेकिन उम्मीद की जानी चाहिए कि भारतीय खिलाड़ियों ने उस दौरे से सीख ली है.

द्रविड़ ने ध्यान दिलाया कि श्रीलंका के पिछले भारत दौरे में भारतीय खिलाड़ियो को मेंडिस से कोई परेशानी नहीं हुई थी. इस दौरे में मेंडिस को सिर्फ़ एक टेस्ट में मौक़ा मिला था, और उन्होंने 162 रन देते हुए दो विकेट लिए थे.

द्रविड़ खुद जनवरी के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के मंच पर लौट रहे हैं. बांगलादेश के ख़िलाफ़ खेलते हुए अपने पिछले टेस्ट मैच में उन्होंने नाबाद शतक बनाया था. चोटिल होने की वजह से वे दक्षिण अफ़्रीका के खिलाफ़ खेल न सके. आईपीएल में वह रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर के लिए खेल रहे थे, जो तीसरे स्थान पर रहा. उन्होंने कहा कि टेस्ट क्रिकेट में अपनी ताल वापस लाने के लिए उन्हें कुछ वक्त चाहिए. लेकिन श्रीलंका में उन्हें कुछ प्रैक्टिस का मौक़ा मिल जाएगा.

भारत श्रीलंका में तीन टेस्ट मैच खेलेगा.

रिपोर्ट एजेंसियांउभ

संपादन राम यादव

संबंधित सामग्री