1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

देश से ज्यादा प्यारा क्लब: रिबेरी

बड़े फुटबॉल खिलाड़ियों पर अक्सर यह आरोप लगते हैं कि वे देश से ज्यादा क्लब की परवाह करते हैं. अब फ्रांसीसी विंगर फ्रांक रिबेरी ने तो खुलकर कह भी दिया है कि वह फ्रांस से ज्यादा बार्यन म्यूनिख से प्यार करते हैं.

29 साल के फ्रांक रिबेरी बीते एक दशक से फ्रांस की राष्ट्रीय टीम के स्तंभ हैं. साथ ही वह जर्मनी के चोटी के फुटबॉल क्लब बायर्न म्यूनिख के लिए भी खेलते हैं. रिबेरी बायर्न म्यूनिख के भी लाडले हैं. वह खुद कहते हैं, "मैं बायर्न के लिए छह साल से खेल रहा हूं. यहां हमेशा मजा आता है, मैं हमेशा खुश रहता हूं. यह मेरे लिए राष्ट्रीय टीम से ज्यादा अहम है."

उनके इस बयान से फ्रांस के फुटबॉल प्रेमी चौंक गए हैं. विवाद जमीन से उठने की तैयारी कर रहा है. वैसे रिबेरी जितनी अच्छी फुटबॉल खेलते हैं, उतने ही कायदे से वह विवाद भी खड़े करते हैं. 2010 में रिबेरी सेक्स स्कैंडल में फंसे. वह नाबालिग यौनकर्मियों के साथ सेक्स करने के दोषी करार दिए गए. स्कैंडल में फ्रांस की फुटबॉल टीम के कुछ अन्य खिलाड़ी भी फंसे. संकट की इस घड़ी में बायर्न ने रिबेरी का साथ नहीं छोड़ा. रिबेरी इससे खासे प्रभावित हुए.

2006 से फ्रांस की राष्ट्रीय टीम में खेल रहे रिबेरी तेजी, ऊर्जा, कलाबाजी और सटीक पास देने के लिए मशहूर हैं. बायर्न म्यूनिख में वह कई चोटी के खिलाड़ियों के साथ खेल रहे हैं, लेकिन इसके बावजूद टीम न तो चैंपियंस लीग जीत पा रही है, न ही बुंडेसलीगा की विजेता बन पा रही है.

रिबेरी मानते हैं कि बहुत ज्यादा व्यस्त होने की वजह से बायर्न की ऐसी हालत हुई है. फ्रांसीसी खिलाड़ी के मुताबिक चैंपियंस लीग, बुंडेसलीगा और जर्मन कप, एक साथ तीन तीन टूर्नामेंटों में व्यस्त रहने की वजह से म्यूनिख की हालत पतली हो रही है. पिछले महीने बायर्न ने हर हफ्ते दो मैच खेले.

ओएसजे/एमजी (एएफपी)

DW.COM

संबंधित सामग्री