1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

दूसरे नंबर पर आए फेल्प्स

अमेरिका के तैराकी स्टार माइकल फेल्प्स रिटायरमेंट से लौटने के बाद पहली प्रतियोगिता में दूसरे नंबर पर रहे. इसी के साथ उन्होंने साबित कर दिया कि वह तैराकी की दुनिया में लौटने को लेकर कितने गंभीर हैं.

रिकॉर्ड 22 ओलंपिक मेडल अपने नाम करने वाले फेल्प्स को मेसा ग्रां प्री में हुए 100 मीटर बटरफ्लाई फाइनल में पुराने प्रतिद्वंद्वी रायन लोख्टे ने हरा दिया.

लोख्टे ने 51.93 सेकंड में ये प्रतियोगिता जीती जबकि फेल्प्स 52.13 के समय के साथ दूसरे नंबर पर रहे. 2014 में फेल्प्स दुनिया के चौथे सबसे तेज तैराक हैं. उन्होंने कहा, "जो मुझे करना था वो मैंने किया. रेस मजेदार थी. मैं एक और फाइनल में पहुंचा." वहीं लोख्टे को भी फेल्प्स के साथ प्रतिस्पर्धा में मजा आया, "अगर फेल्प्स नहीं होते तो मैं शायद इतने कम समय में नहीं तैरता. मैं खुश हूं कि वो लौट आए हैं. उनके जाने से मैं थोड़ा दुखी हो गया था, उनके साथ रेस लगाना बहुत मजेदार है."

फेल्प्स ने कहा, रात में मैं सुबह की तुलना में ज्यादा गंभीर था. मैं जानता था कि मुझे क्या करना है."

उनके कोच बॉब बोमैन ने बताया, "मुझे लगता है कि शुरू करने के लिए ये अच्छा समय है. इस सुबह से पहले तक दो साल वह रेस में नहीं थे. शुरुआत में वह थोड़ा धीमे थे, लेकिन बाद में उन्होंने तेज होने के लिए भागदौड़ की. जब तक उन्होंने गति पकड़ी तब तक रेस खत्म होने को थी." लेकिन वह फेल्प्स के उत्साह से भी खुश हैं. लोख्टे ने कहा, "सभी उनके लौटने से खुश हैं. यह खेल के लिए भी अच्छा है." हालांकि फेल्प्स खुद भी कोई प्रतिबद्धता नहीं दिखाना चाहते. उन्होंने कहा, "मैं न तो हां कह रहा हूं और ना. मैं ये कह कर खुद पर दबाव नहीं डालना चाहता कि आज या कल मैं ये काम करूंगा. जैसा है मैं उसी में खुश हूं."

एएम/एमजे (एएफपी)