1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

दुनिया में संघर्षों के खात्मे की अपील

क्रिसमस पर वेटिकन सिटी से अपने संदेश में पोप बेनेडिक्ट 16वें ने मध्य पूर्व में शांति स्थापित करने, चीन और इराक में कैथलिक समुदाय को दमन के खिलाफ आगे आने और अफ्रीका में जातीय संघर्ष के खात्मे की अपील की है.

default

वेटिकन सिटी में पोप के संदेश के दौरान कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रही. उरबी एट ओरबी (शहर और दुनिया के लिए) संदेश में पोप ने कहा कि शांति और उम्मीद का क्रिसमस संदेश हमेशा नया, हिम्मत भरा रहता है जिससे शांति के लिए संघर्ष में लोगों में नया जज्बा पैदा होता है. सेंट पीटर्स बेसिलिका से पोप ने हजारों लोगों को 65 भाषाओं में क्रिसमस की बधाई दी. कड़ाके की सर्दी और बारिश के बावजूद बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे.

"क्रिसमस की रोशनी एक बार फिर यीशु के जन्मस्थल पर जगमगाए और इस्राएलियों और फलीस्तीनियों को शांति स्थापित करने के लिए प्रेरित करे जिससे वे सहअस्तित्व के लिए तैयार हो सकें." पोप ने उम्मीद जताई कि इराक और मध्य पूर्व में ईसाई समुदाय के लिए क्रिसमस सांत्वना लेकर आएगा. इराक में एक चरमपंथी हमले में ईसाई समुदाय के 52 लोगों की मौत हो गई जिससे बड़ी संख्या में बगदाद से सुरक्षित इलाकों की ओर ईसाई पलायन कर रहे हैं.

Christmette Vatikan Petersdom Rom

सेंट पीटर्स बेसिलिका

पोप ने अपने संदेश में सीधे तौर पर चीन की आलोचना करते हुए कहा कि क्रिसमस चीन में चर्च में विश्वास रखने वालों के विश्वास, संयम, साहस और जज्बे को मजबूत करेगा. पोप ने लोगों की धार्मिक आजादी और विचारों पर रोक लगाने की आलोचना की है. पोप ने उन ईसाईयों को हौसला देने की प्रार्थना की जिनके खिलाफ भेदभाव हो रहा है या फिर जिन्हें सजा दी जा रही है. कुछ दिन पहले चीन में पोप के वफादार कैथलिक समुदाय पर दबाव डाला गया कि वे सरकारी चर्च में जाएं. सरकारी चर्च पोप के प्रभाव से परे है.

वेटिकन में पुलिस मुस्तैद है. दो दिन पहले स्विट्जरलैंड और चिली के दूतावास में पार्सल बम फटने के बाद से सुरक्षा बढ़ा दी गई है. इस हमले में एक व्यक्ति घायल हुआ है. रोम की सड़कों पर आम दिनों की अपनेक्षा ज्यादा पुलिसकर्मी देखने को मिल रहे हैं. लेकिन बारिश और सुरक्षा के बावजूद लोगों के उत्साह में कोई कमी देखने को नहीं मिल रही है. शुक्रवार रात को सेंट पीटर्स बेसिलिका में प्रार्थना सभा में दस हजार लोगों ने हिस्सा लिया.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: ओ सिंह

DW.COM

WWW-Links