1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

दुनिया में जिंताओ इंडिया में सोनिया

चीनी राष्ट्रपति दुनिया के सबसे ताकतवर आदमी बन गए हैं और सोनिया गांधी भारत में. फोर्ब्स ने दुनिया भर की 6.8 अरब आबादी में से 68 सबसे ताकतवर लोगों को चुना है. अमेरिकी राष्टपति ओबामा अब दूसरे नंबर पर.

default

भारत से इस सूची में टाटा संस के चेयरमैन रतन टाटा और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के अलावा रिलायंस से मुकेश अंबानी और स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल भी हैं. दुनिया भर के लिहाज से देखें तो सोनिया गांधी नौवें नंबर पर हैं. आश्चर्यजनक रूप से हाल ही में सोनिया को दुनिया की सबसे ताकतवर महिलाओं की सूची में जगह नहीं मिली थी. हाल ही में चौथी बार अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की मुखिया चुनी गईं सोनिया गांधी खुद को नेहरू-गांधी परिवार की विरासत का सही वारिस साबित करने में जुटी हैं.

Barack Obama und Hu Jintao / Peking

दुनिया में सबसे ताकतवर

फोर्ब्स का कहना है कि इटली में जन्म, विदेशी धर्म और दूसरी कई असमानताएं होने के बावजूद एख अरब लोगों को अपने प्रभाव से मुग्ध करने में कामयाब रही हैं. प्रधानमंत्री के रूप में मनमोहन सिंह के चुनाव को भी सोनिया गांधी की बड़ी उपलब्धि माना है फोर्ब्स ने. इसके साथ ही 40 साल के बेटे को राजनीति का पाठ पढ़ाने और उन्हें भविष्य में बड़ी जिम्मेदारी सौंपने के लिए तैयार करने के लिए भी सोनिया की तारीफ की गई है.

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की रैंकिंग में भी अच्छा सुधार हुआ है और वो दुनिया के ताकतवर नेताओं की सूची में अब 18वें नंबर पर आ गए हैं. पिछली सूची में उनका नंबर 36वां था. फोर्ब्स ने प्रधानमंत्री के बारे में लिखा है,"ऑक्सफोर्ड में पढ़े, कम बोलने वाले अर्थशास्त्री मनमोहन सिंह ने खरीदारी की ताकत के आधार पर दुनिया की चौथी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था का नेतृत्व बहुत शानदार तरीके से किया है."

फोर्ब्स की बनाई इस सूची में राष्ट्रप्रमुख, प्रमुख धार्मिक नेता, कारोबारी और कुछ ऐसे लोग भी हैं जो कानून और नैतिकता की नजरों में मुजरिम हैं. फोर्ब्स का कहना है कि ये लोग भी दुनिया के एक बड़े हिस्से पर अपना असर रखते हैं इसलिए सूची में इन्हें भी जगह दी गई है.

रिपोर्टः एजेंसियां/एन रंजन

संपादनः उज्ज्वल भट्टाचार्य

DW.COM

WWW-Links

संबंधित सामग्री