1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

दिल खोल कर खर्च रहे हैं एशियाई लोग

यूरोप और अमेरिका के लोग जहां अब तक मंदी की मार से सहमे हुए हैं, वहीं एशिया बाजारों में लोग जमकर खरीददारी कर रहे हैं. इसीलिए फेस्टिवल में सीजन में बड़े ब्रैंड की उम्मीदें एशियाई बाजारों पर टिकी हैं.

default

सिंगापुर के फैशनेबल ऑरचर्ड रोड पर बेशुमार विदेशी ब्रैंड के स्टोर हैं, जहां ग्राहकों की चलहपहल देखने वाली है. इनमें ज्यादातर लोग दक्षिणपूर्व एशियाई देशों से हैं जिनकी मुद्रा इस साल अमेरिकी डॉलर के मुकाबले मजबूत हुई है. 26 साल के इंडोनेशियाई टूरिस्ट डॉन त्रिआंगा कहते हैं कि उन्होंने लुई विथों ब्रैंड की बेल्ट और बरबरी की कमीज खरीदने के लिए 1500 सिंगापुर डॉलर खर्च किए हैं जो 51 हजार रुपये के आसपास बैठते हैं. लेकिन त्रिआंगा का कहना है कि अभी उनकी खरीदारी पूरी नहीं हुई है. एक क्रिसमस ट्री के पास बैठे त्रिआंगा का कहना है, "बरबरी की कमीज तो मुझे किसी को गिफ्ट देनी है, लेकिन बेल्ट अपने लिए ही खरीदी है."

Schweine in Hongkong chinesisches Neujahr

उम्मीद की जा रही है कि सिंगापुर में पिछले साल की मंदी के बाद इस साल जीडीपी में 15 प्रतिशत का इजाफा होगा. इस तरह सिंगापुर 2010 में एशिया का सबसे तेजी से प्रगति करने वाला बाजार बन सकता है. लेकिन देश का रिटेल सेक्टर अन्य क्षेत्रों से अब भी काफी पीछे बताया जाता है. एशियाई विकास बैंक का कहना है कि 2010 में डॉलर के मुकाबले थाई भात, मलेशियाई रिंगिट, सिंगापुर के डॉलर और फिलीपींस के पीसो की कीमत में इजाफा हुआ है. इन देशों के शेयर बाजार में भी तेजी देखी गई है. सबसे ज्यादा इंडोनेशिया के शेयर बाजार ने छलांग लगाई. इसकी वजह निवेशकों का विश्वास और अधिक रिटर्न की उम्मीद में होने वाला विदेश निवेश है.

BdT Singapur Wirtschaft Rolltreppe

एशियाई विकास बैंक का कहना है कि उभरते पूर्वी एशियाई देशों में इस साल 8.8 प्रतिशत की दर से वृद्धि होगी. पिछले साल यह दर 5.2 प्रतिशत रही और 2011 में इसके 7.3 प्रतिशत रहने की उम्मीद है. हालांकि आर्थिक संकट के साए से पूर्वी एशियाई देश अब भी पूरी तरह आजाद नहीं है लेकिन ली हाइक कुंक जैसे लोगों को इसकी ज्यादा परवाह नहीं दिखती. 33 वर्षीय ली दक्षिण कोरिया के एक अस्पताल में काम करती हैं. उन्होंने इस साल क्रिसमस पर अपने हर रिश्तेदार के लिए 50,000 वॉन का तोहफा देने का मन बनाया जो दो हजार भारतीय रुपये के बराबर है. उन्होंने पिछले साल के मुकाबले अपने क्रिसमस बजट में 5.2 प्रतिशत का इजाफा किया है. सियोल में रहने वाली ली का कहना है, "ऐसी बात नहीं है कि मेरी सैलरी बढ़ गई हैं, लेकिन मैंने सोचा कि इस बार क्यों न कुछ थोड़ा ज्यादा खर्च किया जाए. खासकर मेरे आसपास के लोग और माहौल बहुत ही आशावादी है."

हांगकांग में स्थानीय डॉलर का सीधा संबंध अमेरिकी डॉलर हैं लेकिन फिर भी वहां रिटेल इंडस्ट्री खूब तरक्की कर रही है जिसकी खास वजह है वहां आने वाले चीनी लोग और तेजी से बढ़ता प्रॉपर्टी कारोबार. सरकारी आंकड़े बताते हैं कि पिछले साल के मुकाबले इस साल अक्टूबर में बिक्री दर में 18.3 प्रतिशत का इजाफा हुआ है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः वी कुमार

DW.COM

WWW-Links