1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

दिल्ली में पांच साल का सबसे ठंडा दिन

दिल्ली ने पांच साल में सबसे सर्द दिन देखा और तापमान सामान्य से करीब 12 डिग्री नीचे चला गया. उत्तरी भारत के दूसरे हिस्सों में भी कड़ाके की ठंड है और 150 से ज्यादा लोग सर्दी के शिकार बन चुके हैं. कई रेलें और विमान देरी से.

default

राजधानी दिल्ली सर्दी से ठिठुर रही है. ठंडी हवाओं के साथ साथ कोहरे ने भी मुश्किल कर रखी है और मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली वालों को फिलहाल इस सर्दी से निजात नहीं मिलने वाली है. तापमान पांच डिग्री के आस पास पहुंच गया है और सूरज नहीं निकल रहा है.

भारत के मौसम विभाग का कहना है कि दिल्ली में शनिवार को न सिर्फ इस साल का बल्कि पांच साल का सबसे सर्द दिन रहा. उन्होंने बताया कि हिमालय से आने वाली ठंडी उत्तर पश्चिमी हवाओं ने भारी कोहरे के साथ सर्दी और बढ़ा दी है और सूर्य की रोशनी शहर तक नहीं पहुंच पा रही है.

शहर का तापमान 5 डिग्री और 11 डिग्री के आस पास झूल रहा है और शहर में कोहरे की वजह से यातायात बाधित हो रहा है. दिल्ली के रेलवे स्टेशनों पर करीब 50 ट्रेनें देर से चल रही हैं, जबकि दो रद्द कर दी गईं. यही हाल इंदिरा गांधी हवाई अड्डे पर है, जहां कई विमान देर से उड़ रहे हैं.

Flash-Galerie Indien Kälte

दिल्ली में सर्दी से हालत खराब

बिहार में भी कड़ाके की ठंड पड़ रही है. राजधानी पटना और गया का तापमान छह डिग्री सेल्सियस के आस पास रिकॉर्ड किया गया, जो सामान्य से बहुत कम है. पटना में कोहरे की वजह से रेल और विमान यातायात पर बुरा असर पड़ा है. बैंगलोर से पटना जाने वाले एक हवाई यात्री ने बताया, "एक दिन पहले ही मुझे बता दिया गया है कि मेरी फ्लाइट साढ़े तीन घंटे लेट हो चुकी है. बैंगलोर में तो मौसम साफ है लेकिन एयरलाइंस का कहना है कि पटना में सुबह के वक्त विमान लैंड नहीं कर सकता."

बिहार के पड़ोसी राज्य झारखंड में भी सर्दी से बुरा हाल है. राज्य में लगभग 50 लोगों की मौत हो चुकी है और छोटे बच्चों के स्कूलों को पहले ही हफ्ते भर के लिए बंद कर दिया गया है. राजधानी रांची में तापमान चार डिग्री के आस पास पहुंच गया है, जबकि कांके में पारा शून्य डिग्री को छू रहा है.

उत्तर प्रदेश में सर्दी का सबसे ज्यादा कहर पड़ा है, जहां 80 से ज्यादा लोगों ने ठंड की वजह से दम तोड़ दिया है. इनमें से ज्यादातर बेघर लोग हैं. महाराजगंज, बाराबंकी, देवरिया और कई दूसरे जिलों से सर्दी की वजह से लोगों के मरने की खबर आई है. आगरा का तापमान एक डिग्री से भी कम हो गया, जबकि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में 3.4 डिग्री तापमान रिकॉर्ड किया गया. वाराणसी में पारा पांच डिग्री के आस पास रहा.

Flash-Galerie Indien Kälte

इलाहाबाद का हाल

देश के उत्तरी इलाके का हाल तो और भी बुरा है. लेह और लद्दाख का तापमान -13 डिग्री दर्ज किया गया, जबकि भारतीय राज्य जम्मू कश्मीर की राजधानी श्रीनगर में पारा -1 डिग्री तक पहुंच गया. पहलगाम जिले में -9 डिग्री और गुलमर्ग स्कीइंग क्षेत्र में -7 डिग्री तापमान दर्ज किया गया.

राजस्थान और पंजाब हरियाणा के क्षेत्रों में भी जबरदस्त सर्दी पड़ रही है. अमृतसर का तापमान 5 डिग्री, हिसार का 4 डिग्री और जयपुर का 5 डिग्री दर्ज किया गया.

भारत के ज्यादातर हिस्सों में सर्दी से बचने के मुकम्मल उपाय नहीं होते हैं. आम तौर पर गर्मी झेलने वाले भारतीय शहरों में पश्चिमी देशों की तरह खिड़की दरवाजों को पूरी तरह बंद करने की व्यवस्था नहीं होती और न ही यहां रूम हीटर लगा होता है. इससे सर्दी की मार ज्यादा महसूस होती है. सबसे ज्यादा परेशानी बेघर लोगों को होती है, जिन्हें खुले आसमान के नीचे रात गुजारनी पड़ती है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए जमाल

संपादनः ओ सिंह

DW.COM