1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

दिल्ली चुनाव के दस बेहतरीन ट्वीट

दिल्ली विधानसभा चुनाव ने राजनीतिक हलचल तो मचाई ही है, लोगों को नेताओं पर हंसने का अच्छा मौका भी दिया है. जैसे जैसे नतीजे आते रहे ट्विटर, फेसबुक और व्हॉट्सऐप के जरिए लोग बीजेपी, कांग्रेस और आप पार्टी पर चुटकुले बनाते रहे.

आम आदमी पार्टी का चुनाव चिह्न झाड़ू अब काफी लोकप्रिय हो गया है. कई लोगों ने लिखा कि केजरीवाल ने धोखा किया है, झाड़ू का वादा कर के वैक्यूम क्लीनर चला दिया है. कइयों ने तो यह भी कहा कि अरविंद केजरीवाल को पार्टी का निशान बदल कर वैक्यूम क्लीनर ही रख लेना चाहिए.

70 में से 67 सीटों की किसी ने भी उम्मीद नहीं की थी. अपनी टीवी स्क्रीनों पर चुनाव के नतीजे देख रहे लोग, फेसबुक और ट्विटर पर ताजा स्कोर तो ऐसे बता रहे थे जैसे कोई क्रिकेट का मैच चल रहा हो. आखिरकार जब केजरीवाल 95 प्रतिशत के साथ विजयी हुए, तो लोगों ने लिखा कि केजरीवाल ने तो चुनाव को सीबीएसई परीक्षा का नतीजा बना दिया. इस तरह के ट्वीट भी आए कि केजरीवाल की जीत ने बता दिया कि इंजीनियरिंग का कोई स्टूडेंट जब इम्तिहान को संजीदगी से लेकर दोबारा लिखने बैठता है, तो क्या होता है.

सोशल मीडिया पर कार्टूनों की भी झड़ी लगी हुई है. कभी केजरीवाल को सिंघम के अवतार में देखा गया, तो कभी बैटमैन के. मफलर मैन रिटर्न्स को इतनी बार रीट्वीट किया गया जैसे वाकई कोई नई फिल्म रिलीज हुई हो. हालांकि बीजेपी समर्थकों ने लिखा है कि फिल्म रिलीज तो हो गयी है, अब चलेगी या नहीं, इसकी कोई गारंटी नहीं है.

फिल्मों की बात करने वाले केजरीवाल की तुलना अनिल कपूर की फिल्म नायक से भी करने से नहीं चूक रहे. वहीं किरण बेदी और मोदी का मजाक उड़ाते हुए कार्टून भी हैं. एक कार्टून में केजरीवाल फिल्म बेबी देख रहे हैं, तो उनके पीछे बैठे मोदी "क्राय बेबी" किरण बेदी को देख रहे हैं.

विधानसभा सीटों की तुलना कारों की सीटों से भी खूब हुई. जब तक बीजेपी के पास छह सीटें दिख रही थीं, सांसदों को क्वालिस में बिठाने की बात हो रही थी. यह कटाक्ष किरण बेदी की क्वालिस गाड़ी पर था, जिसके साथ वे दिल्ली में प्रचार करने निकलीं. जैसे जैसे सीटें कम होती गयीं, गाड़ी छोटी हो कर नैनो में तब्दील हो गयी. हालांकि सच्चाई यह है कि पिछले साल के चुनाव की तुलना में इस बार बीजेपी को केवल एक फीसदी कम वोट डले हैं, लेकिन लोग सोशल मीडिया पर लगातार पूछ रहे हैं कि तीन सीटें दिलवाने वाले "बहादुर लोग" आखिर कौन हैं.

कांग्रेस की भी खूब खिंचाई हो रही है. मधु किश्वर ने लिखा है कि कांग्रेस को इस बात की खुशी होनी चाहिए कि वह बीजेपी से केवल तीन ही सीटें पीछे है. राहुल गांधी पर भी चुटकुला चल रहा है कि कैसे वे सोनिया गांधी से कह रहे हैं कि पिछली बार हम बीजेपी से 24 सीट पीछे थे और इस बार केवल तीन. राहुल गांधी की इस बात पर कड़ी आलोचना हो रही है कि नतीजों के समय वे दक्षिण दिल्ली में टीजीआईएफ नाम के रेस्त्रां में बैठे हुए थे.

चुटकुलों के अलावा केजरीवाल की तारीफ भी हो रही है. सिर्फ चुनाव जीतने के लिए ही नहीं, बल्कि अपनी पत्नी को सम्मान देने के लिए भी. लोग उनकी तुलना बराक ओबामा से कर रहे हैं, जो पूरी दुनिया के सामने भी अपनी पत्नी के गले लगने से शर्माते नहीं हैं.

साथ ही चुनाव से ठीक पहले यूट्यूब चैनल टीवीएफ को दिया केजरीवाल का इंटरव्यू भी वायरल हो गया है, जिसमें वे अपने ऊपर किए जा रहे मजाक को बखूबी ले रहे हैं और खुद पर हंसते नजर आ रहे हैं.

DW.COM

संबंधित सामग्री