1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

वर्ल्ड कप

दिल्ली का खेलगांव ठीक ठाक हैः ऑस्ट्रेलिया

ऑस्ट्रेलियाई कॉमनवेल्थ संघ ने कहा है कि दिल्ली खेलगांव की हालात स्वीकार्य है और उनके खिलाड़ी खेलों में हिस्सा लेंगे. हर तरफ से कड़ी आलोचना झेल रहे दिल्ली कॉमनवेल्थ खेलों के आयोजकों को इस बयान से राहत मिली है.

default

पूर्वी दिल्ली में बने खेलगांव को शुरू में भारतीय मीडिया ने सराहा लेकिन जब कॉमनवेल्थ संघ के कई बड़े सदस्य देशों ने इसे "गंदा" और "रहने के नाकाबिल" बता दिया तो आयोजकों की दुनिया भर में आलोचना होने लगी. लेकिन अब ऑस्ट्रेलियाई कॉमनवेल्थ संघ के मुखिया पेरी क्रॉसव्हाइट का कहना है कि चीजें सुधर रही हैं. वह कहते हैं, "कॉमनवेल्थ खेलगांव की परिस्थितियां स्वीकार्य है. चीजें ठीक हो रही हैं. हालांकि खेलगांव के बेसमेंट में पानी अब भी चिंता का कारण है. लेकिन दिल्ली की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित ने अधिकारियों को आदेश दिया है कि आज रात तक इन्हें ठीक कर लिया जाए. हम मानते हैं कि हमें जो भरोसा दिया गया है, उसे पूरा किया जाएगा."

Commonwealth Games Dorf

क्रॉसव्हाइट ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि खेलगांव में फाइव स्टार होटल जैसे सुविधाएं न भी दी जाए, लेकिन साफ सफाई का ख्याल रखा जाएगा. वह कहते हैं, "हम खिलाड़ियों के लिए पांच सितारा होटल जैसी सुविधाएं नहीं मांग रहे हैं. हम चाहते हैं कि साफ सफाई रहे और माहौल रहने लायक हो." उन्होंने भरोसा दिलाया कि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी 27 सितंबर तक दिल्ली पहुंच जाएंगे वह कहते हैं, "मैं फिलहाल खेलगांव से खुश हूं और ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी 27 सितंबर तक दिल्ली पहुंच जाएंगे."

वेल्स भी दिल्ली के कॉमनवेल्थ खेलों के आयोजकों की तरफ से दिए आश्वासनों से संतुष्ट है और उसके खिलाड़ी तय कार्यक्रम के मुताबिक दिल्ली जाएंगे. इससे पहले वेल्स ने खिलाड़ियों को भेजने में देरी का संकेत दिया और उसने आयोजकों से बुधवार तक सब काम ठीक कर लेने का कहा. वेल्स के एक बयान में कहा गया है, "कॉमनेवल्थ संघ को दिल्ली 2010 आयोजन समिति की तरफ से यह आश्वासन मिला है कि सभी खेल स्थल और खेलगांव को ठीक कर दिया जाएगा."

सुरक्षा इंतजामों पर क्रॉसव्हाइट ने कहा, "ये बहुत कड़े हैं और हम सुरक्षा एजेंसियों के साथ स्थिति पर नजदीक से नजर रखे हुए हैं. हम खेलों के लिए तैयार हैं." खेलगांव में साफ सफाई को लेकर कॉमनवेल्थ खेलों के आयोजकों की खासी किरकिरी हुई है. कई देशों के अलावा कॉमनवेल्थ खेल संघ के मुखिया माइक हूपर ने कहा कि खेलगांव बहुत "गंदा" और "कल्पना से परे" है. तीन देशों स्कॉटलैंड, कनाडा और न्यूजीलैंड ने स्थिति की समीक्षा करने का फैसला किया है जिससे उनके खिलाड़ियों के दिल्ली दौरे में देरी हो रही है.

रिपोर्टः एजेंसियां/ए कुमार

संपादनः एन रंजन

DW.COM

WWW-Links