1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

ताना बाना

दक्षिण कोरिया सैन्य अभ्यास को तैयार

कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव चरम पर. उत्तर कोरिया की चेतावनी के बावजूद दक्षिण कोरिया येओनपेयोंग द्वीप पर सैन्य अभ्यास शुरू करने को तैयार. उत्तर कोरिया ने गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी दी. सुरक्षा परिषद की आपात बैठक.

default

दक्षिण कोरिया येओनपेयोंग द्वीप पर सोमवार को सैन्य अभ्यास शुरू करने के लिए तैयार है लेकिन उत्तर कोरिया इसके गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दे रहा है. कुछ हफ्ते पहले येओनपेयोंग द्वीप पर उत्तर कोरिया की गोलाबारी में दो आम लोगों और दो दक्षिण कोरियाई नौसैनिकों की मौत हो गई थी जिसके बाद तनाव नए स्तर को छू गया.

उत्तर कोरिया ने कड़े शब्दों में कहा है कि अगर दक्षिण कोरिया सैन्य अभ्यास करता है तो तबाही वाले परिणाम होंगे. दक्षिण कोरिया ने भी माना है कि उत्तर कोरिया ने अपनी सेना की सतर्कता का स्तर उच्चतम कर दिया है.

Korea / Südkorea / Soldaten / NO-FLASH

उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच तनाव को दूर करने के प्रयासों के तहत संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा सुरक्षा परिषद ने आपातकालीन बैठक बुलाई. रूस चाहता है कि संयुक्त राष्ट्र दूत को शांति मिशन के लिए रवाना कर दिया जाना चाहिए.

आपात बैठक बुलाने का आग्रह करने वाले रूस का कहना है कि कोरियाई देशों को संयम बरते जाने का संदेश भेजा जाना चाहिए. उत्तर और दक्षिण कोरिया से संयम बरतने, बातचीत शुरू करने और आपसी मतभेदों को बातचीत से दूर करने की अपील की गई है.

न्यूज एजेंसी एएफपी को एक राजनयिक ने बताया कि सुरक्षा परिषद में शामिल अधिकतर देश अपने बयान में येओनपेयोंग द्वीप पर उत्तर कोरिया की गोलाबारी की निंदा करना चाहते थे लेकिन रूस और चीन सिर्फ संयम बरतने का उल्लेख करने पर जोर दे रहे हैं. इसके अलावा वे चाहते हैं कि शांति मिशन को रवाना किया जाना चाहिए.

रूस ने संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून से कहा है कि बिना किसी देरी के विशेष प्रतिनिधि को कोरियाई प्रायद्वीप रवाना कर देना चाहिए.

संयुक्त राष्ट्र में रूस के दूत विटाल चरकिन ने कहा, "कोरियाई प्रायद्वीप में जिस तरह से तनाव बढ़ गया है उससे हम बेहद चिंतित हैं. हमारा मानना है कि कोरियाई देशों को संयम बरतने का संदेश देने के लिए सुरक्षा परिषद को कदम उठाना चाहिए." रूस ने खेद जताया है कि उसकी अपील के बावजूद शनिवार को आपात बैठक नहीं बुलाई गई और उसे रविवार तक के लिए टाला गया.

रिपोर्ट: एजेंसियां/एस गौड़

संपादन: एन रंजन

DW.COM

संबंधित सामग्री