1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

खेल

दक्षिण अफ़्रीका, टीम इंडिया आमने सामने

ट्वेंटी20 वर्ल्ड कप में अफ़ग़ानिस्तान पर आसान जीत हासिल करने के बाद टीम इंडिया का सामना आज दक्षिण अफ़्रीका से हो रहा है. दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीता और फील्डिंग का फैसला लिया. गौतम गंभीर और ज़हीर ख़ान आज नहीं खेलेंगे.

default

दक्षिण अफ़्रीका के कप्तान ग्रैम स्मिथ का कहना है कि वह धोनी ब्रिगेड की ख़ूबियां और कमियां जानते हैं.
वर्ल्ड कप मिशन में भारतीय टीम का यह दूसरा मैच है. टीम इंडिया के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कोशिश है कि आईपीएल से चला आ रहा जीत का अभियान जारी रहे. शनिवार को धोनी ने कहा, ''दक्षिण अफ़्रीका के पास कई मैच जिताने वाले खिलाड़ी है. यह मैच एक नई शुरुआत की तरह होगा.''

माही का मानना है कि आईपीएल की वजह से नीली जर्सी वाले उनके खिलाड़ी लय में है. आईपीएल के ज़रिए खिलाड़ी एक दूसरे की ताकत और कमियों से वाकिफ़ हैं. ऐसे में जो योजना को सही ढंग से ढालेगा, जीत उसी की होगी.

पिच रिपोर्ट के मुताबिक सेंट लूसिया का विकेट बल्लेबाज़ों के लिए बढ़िया है. शनिवार को इसी मैदान पर पाकिस्तान ने बांग्लादेश के ख़िलाफ़ 172 का स्कोर खड़ा किया था. बांग्लादेश ने भी 151 रन बनाए.

Graeme Smith, Kapitän der südafrikanischen Cricketmannschaft

चोकर का दाग धोएंगे: स्मिथ

बहरहाल मैच से पहले मनोवैज्ञानिक बढ़त बनाने की कोशिश करते हुए विपक्षी कप्तान ग्रैम स्मिथ का कहना है, ''हमारे चार खिलाड़ी आईपीएल में खेले. हमें भारतीय टीम के कई खिलाड़ियों के बारे में जानकारी है.'' स्मिथ का इशारा धोनी, रैना और युवराज के लिए है.

चेन्नई सुपरकिंग्स में धोनी, रैना और मोर्केल साथ खेले थे, जबकि बैंगलोर की तरफ़ से खेल चुके डेरल स्टेन भी भारतीय बल्लेबाज़ों की भांप चुके हैं या यूं कहें कि टीम इंडिया भी स्टेन की गेंदें जानती है.

वैसे आईपीएल में स्टेन कोई ख़ास कमाल नहीं कर पाए थे, लेकिन कैरेबियाई धरती पर उनकी गेंदे ज़्यादा तेज़ और घातक साबित हो सकती हैं. दक्षिण अफ़्रीकी कप्तान की दिली ख़्वाहिश है कि वह टी-20 वर्ल्ड कप जीतकर बदनामी का तमगा हटाए.

दक्षिण अफ़्रीका अक्सर बढ़िया खेलते हुए टूर्नामेंट के अहम मौके पर बाहर होता है इसीलिए टीम को चोकर कहा जाता है. स्मिथ कहते हैं टीम चोकर कहने वालों अब छुपना नहीं है, बल्कि उनके सामने कुछ करके दिखाना है.

रिपोर्ट: एजेंसियां/ओ सिंह

संपादन: एस गौड़

संबंधित सामग्री