1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

थाईलैंड में विपक्ष के टीवी चैनल बंद

थाई सरकार ने विपक्ष से जुड़ी कई वेबसाइट्स और टीवी चैनल को बंद कर दिए हैं. राजधानी बैंकॉक में आपातकाल लागू कर दिया गया है. इससे पहले सरकार विरोधी रेड शर्ट प्रदर्शनकारियों ने बुधवार को बैंकॉक में भारी प्रदर्शन किया था.

default

2008 के बाद यह चौथा मौक़ा है, जब बैंकॉक में आपातकाल की घोषणा हुई है. सरकार विरोधी रेड शर्ट प्रदर्शनकारियों ने बुधवार को थाईलैंड के संसद भवन पर धावा बोल दिया था, जिसके कारण संसद में मौजूद अधिकारियों को हेलीकॉप्टर की मदद से सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया. थाइलैंड में पिछले एक महीने से हिंसक दंगे चल रहे थे. प्रधानमंत्री अभिसीत वेज्जाजिवा ने कहा कि आपातकाल लगाने का मकसद समस्या का समाधान निकालना है. साथ ही साथ अधिकारियों ने विपक्ष से जुड़े कई वेबसाइट्स और टीवी चैनल्स को भी बंद कर दिया है.

वहीं दूसरी ओर रेड शर्ट के नेता नटावुत साइकुआर कहते हैं कि ये आपातकाल उनके लिए नहीं, सरकार के लिए है. प्रदर्शन करना उनका हक है.

14 मार्च से प्रदर्शन कर रहे रेड शर्ट सदस्य पूर्व प्रधानमंत्री थाकसिन शिनावात्रा के समर्थक हैं और अब तक लाखों लोगों को बैंकॉक के मॉल्स, लक्जरी होटल्स और सड़कों पर एकजुट कर चुके हैं. आपातकाल लागू होने के बाद भी थाकसिन के ये सभी समर्थक शुक्रवार को बड़े पैमाने पर प्रदर्शन करने का विचार कर रहे हैं.

प्रधानमंत्री अभिसीत वेज्जाजिवा पर दबाव बढ़ता ही जा रहा है. प्रधानमंत्री को इन प्रदर्शनों के चलते वियतनाम में हो रहे दक्षिण पूर्व एशियाई शिखर सम्मेलन में भाग लेने का कार्यक्रम रद्द करना पड़ा. इन प्रदर्शनो से देश की अर्थव्यवस्था और पर्यटन को भी भारी नुकसान हो रहा है.

उधर रेड शर्ट प्रदर्शनकारियों का कहना है कि वे तब तक प्रदर्शन जारी रखेंगे जब तक प्रधानमंत्री अभिसीत वेज्जाजिवा संसद भंग कर नया चुनाव कराने की घोषणा नहीं कर देते.

रिपोर्टः एजेंसियां/श्रेया कथूरिया

संपादनः ए कुमार

संबंधित सामग्री