1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

थरूर से दिल्ली पुलिस की पूछताछ

दिल्ली पुलिस के अधिकारियों ने कांग्रेस सांसद शशि थरूर से उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की रहस्यमय मौत के मामले में पूछताछ की है. मामले को डॉक्टरी रिपोर्ट आने के बाद फिर खोला गया है और पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज किया है.

इससे पहले सोमवार को राजधानी के पुलिस प्रमुख ने कहा कि मामले में जरूरी सभी लोगों से विशेष जांच दल पूछताछ कर रहा है ताकि इस हाई प्रोफाइल मामले में एक तर्कसंगत जानकारी सामने आए. थरूर से पूछताछ के बारे में एक सवाल के जवाब में बस्सी ने कहा, ‘‘नहीं, अभी उनसे पूछताछ नहीं हुई है. हम जल्द ही ऐसा करेंगे. वह शहर से बाहर हैं और संभवत: शाम तक लौटेंगे. वह शाम में सात बजे तक वापस लौट रहे हैं. शायद कल या परसों हम उनसे बात करेंगे.''

जब उनसे पूछा गया कि पिछले 15 जनवरी को तिरूवनंतपुरम से दिल्ली की उड़ान में थरूर एवं सुनंदा के बीच झगड़ा हुआ था और इस विमान में तत्कालीन सूचना एवं प्रसारण मंत्री मनीष तिवारी भी सवार थे, क्या उनसे भी पूछताछ की जाएगी तो बस्सी ने इसकी संभावना से इनकार नहीं किया. उन्होंने कहा, ‘‘देखिए, मैं आपको बताना चाहता हूं कि इस मामले में जिस व्यक्ति के पास भी सूचना है, हम उससे बात करेंगे और उन बिन्दुओं पर ध्यान देंगे जिससे इस मामले पर रोशनी पड़ सके. खास जानकारियों साझा करना संभव नहीं है.''

शशि थरूर की 51 वर्षीया पत्नी सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 की रात को दक्षिण दिल्ली के एक पांच सितारा होटल में मृत पायी गई थी. इससे एक दिन पहले सुंनदा का पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के साथ माइक्रो ब्लागिंग साइट ट्विटर पर तकरार हुई. सुनंदा को कि थरूर और तरार के बीच प्रेम प्रसंग का शक था.

पुलिस का कहना है कि सुनंदा पुष्कर का विसरा अमेरिका या इंग्लैंड में किसी विशेष लैब में भेजा जाएगा ताकि उनकी मौत के लिए जिम्मेदार जहर और उसकी मात्रा का पता चल सके. दिल्ली के पुलिस प्रमुख ने बताया है कि विसरा को विदेशी लैब में भेजे जाने की प्रक्रिया चल रही है.

पुलिस ने अब तक जिन लोगों से सुनंदा पुष्कर की असामयिक मौत के बारे में पूछताछ की है उनमें थरूर परिवार का नौकर नारायण सिंह, पारिवारिक मित्र संजय दीवान और होटल का डॉक्टर जिसने मौत की घोषणा की थी और होटल मैनेजर सहित अन्य कर्मचारी शामिल हैं.

एमजे/ओएसजे (पीटीआई)

संबंधित सामग्री