1. Inhalt
  2. Navigation
  3. Weitere Inhalte
  4. Metanavigation
  5. Suche
  6. Choose from 30 Languages

दुनिया

थरूर की पत्नी की अचानक मौत

भारत के हाई प्रोफाइल मंत्री शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर दिल्ली के एक पांचसितारा होटल में मृत पाई गईं. उनकी मौत ऐसे वक्त में हुई है, जब उन्होंने अपने पति का पाकिस्तान की एक पत्रकार के साथ अफेयर का आरोप लगाया था.

दिल्ली पुलिस ने सुनंदा की मौत की पुष्टि की है, लेकिन मौत के कारणों के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है. जांच चल रही है. गुरुवार को सुनंदा पुष्कर ने अपने पति और भारत के मानव संसाधन राज्यमंत्री शशि थरूर पर आरोप लगाया था कि उनका अफेयर पाकिस्तान की पत्रकार 45 साल की मेहरे तरार से चल रहा है. सुनंदा का यह भी कहना था कि तरार पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी "आईएसआई की एजेंट" भी हैं. हालांकि तरार ने ऐसी बातों से इनकार किया और कहा कि उनका थरूर से कुछ लेना देना नहीं है और वह भारतीय मंत्री का बहुत सम्मान करती हैं. तरार ने एजेंट कहे जाने पर सुनंदा के खिलाफ मानहानि का मुकदमा करने की भी बात कही थी.

माइक्रो ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर इस मामले के फैलने के बाद शशि थरूर ने ट्वीट किया था कि उनका अकाउंट किसी ने हैक कर लिया है. लेकिन बाद में सुनंदा ने सामने आते हुए कहा कि अकाउंट हैक नहीं हुआ, बल्कि खुद उन्होंने ही अपने 57 साल के पति के बारे में ट्वीट किया था. मामला बढ़ने के बाद भारतीय और पाकिस्तानी मीडिया में खूब उछला. हालांकि बाद में सुनंदा और शशि ने गुरुवार को इसे सुलझा लेने का दावा किया.

Shashi Tharoor

लगभग तीन दशक तक संयुक्त राष्ट्र से जुड़े रहे शशि थरूर एक अच्छे वक्ता के रूप में जाने जाते हैं. धाराप्रवाह फ्रेंच भाषा बोलने वाले थरूर कभी संयुक्त राष्ट्र के महासचिव की दौड़ में भी आगे चल रहे थे. लेकिन बाद में उन्होंने भारत लौट कर राजनीति करने का फैसला किया. इससे पहले 2010 में भी वह एक बड़े विवाद में फंस चुके हैं. उस वक्त उन पर सुनंदा पुष्कर को गलत तरीके से भारतीय क्रिकेट लीग आईपीएल में फायदा पहुंचाने का आरोप लगा. उस वक्त दोनों की शादी नहीं हुई थी. मामला बढ़ने के बाद उन्हें उस वक्त मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा. हालांकि बाद में उन्हें फिर से मंत्रिमंडल में शामिल कर लिया गया.

शुक्रवार को सुनंदा की मौत ऐसे वक्त में हुई है, जब थरूर की पार्टी कांग्रेस को लोकसभा चुनाव में जाना है. कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को ही एलान किया है उनकी पार्टी बड़े बदलाव के दौर से गुजरने वाली है.

एजेए/एमजे (एएफपी, पीटीआई)

DW.COM